S M L

सावधान! महिला को छम्मकछल्लो बोला तो जाना पड़ सकता है जेल

कोर्ट ने कहा कि यह शब्द किसी महिला की तारीफ नहीं अपमान के लिए इस्तेमाल किया जाता है

Updated On: Sep 04, 2017 02:31 PM IST

FP Staff

0
सावधान! महिला को छम्मकछल्लो बोला तो जाना पड़ सकता है जेल

छम्मकछल्लो का इस्तेमाल कर शाहरुख खान की फिल्म रावन का गाना तो हिट हो गया पर असल जिंदगी में इसका इस्तेमाल आपको मुसीबत में डाल सकता है.

वो इसलिए क्योंकि ठाणे की एक अदालत ने कहा है कि इस शब्द का इस्तेमाल करना 'एक महिला का अपमान करने' के बराबर है.

अदालत के मजिस्ट्रेट ने पिछले सप्ताह शहर के एक निवासी को 'अदालत के उठने तक' साधारण कैद की सजा सुनाई थी और उसपर एक रुपए का जुर्माना लगाया था.

दरअसल इस मामले में आरोपी का एक पड़ोसी उसके खिलाफ अदालत गया था. यह आठ साल पुराना मामला है.

पड़ोसी महिला की शिकायत के मुताबिक, नौ जनवरी 2009 को जब वह अपने पति के साथ सैर से लौट रही थी, तब उसे एक कूड़ेदान से ठोकर लग गई. महिला ने कहा कि यह कूड़ेदान आरोपी ने सीढ़ियों पर रखा था.

किसी की तारीफ के लिए नहीं है ये शब्द: कोर्ट

आरोपी इस दंपति पर चिल्लाने लगा और उस महिला को 'छम्मकछल्लो' कह डाला. इसपर महिला बेहद गुस्सा हो गई और पुलिस से संपर्क किया लेकिन पुलिस ने शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया. तब महिला ने अदालत का रुख किया.

ज्यूडीशियल मजिस्ट्रेट आर टी लंगाले ने उनके मामले को सही ठहराते हुए कहा कि आरोपी ने धारा 509 (शब्द, इशारे या किसी हरकत से महिला का अपमान) के तहत अपराध किया है.

मजिस्ट्रेट ने अपने आदेश में कहा, 'यह एक हिंदी शब्द है. अंग्रेजी में इसके लिए कोई शब्द नहीं है. भारतीय समाज में इस शब्द का अर्थ इसके इस्तेमाल से समझा जाता है. आम तौर पर इसका इस्तेमाल किसी महिला का अपमान करने के लिए किया जाता है. यह किसी की तारीफ करने का शब्द नहीं है, इससे महिला को चिढ़ होती है और उसे गुस्सा आता है.'

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi