S M L

राजस्थान चुनाव रैलियों में हमला कर सकता है आतंकी जाकिर मूसा: रिपोर्ट

हमले की आशंका को देखते हुए पंजाब और राजस्थान राज्यों की सीमा पर गाड़ियों की चेकिंग की जा रही है

Updated On: Nov 17, 2018 02:18 PM IST

FP Staff

0
राजस्थान चुनाव रैलियों में हमला कर सकता है आतंकी जाकिर मूसा: रिपोर्ट

आतंकी जाकिर मूसा को अमृतसर में देखे जाने की खबरों के बाद पूरे पंजाब और राजस्थान में भी कड़ी सुरक्षा कर दी गई है. पुलिस का मानना है कि मूसा राजस्थान चुनाव रैलियों के दौरान हमले कर सकता है, इसलिए पंजाब और राजस्थान में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है और मूसा की तलाश भी की जा रही है.

पुलिस ने मूसा को लेकर जगह-जगह वॉन्टेड की तस्वीरें भी लगाई हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि आतंकी संगठन अलकायदा राजस्थान विधानसभा चुनाव के दौरान किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकता है. बता दें कि राजस्थान में 7 दिसंबर को 200 विधानसभा सीटों पर चुनाव होने हैं.

इंडिया टुडे ने सूत्रों के हवाले से बताया कि अलकायदा कमांडर ज़ाकिर मूसा और उसके साथी राजस्थान विधानसभा चुनाव की रैलियों को निशाना बना सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि पंजाब में हाई अलर्ट के बाद ज़ाकिर मूसा और अन्य संदिग्ध आतंकी राजस्थान में घुस चुके हैं. बताया जा रहा है कि वह पंजाब के फिरोजपुर के रास्ते राजस्थान में दाखिल हुआ है.

हमले की आशंका को देखते हुए दोनों राज्यों की सीमा पर गाड़ियों की चेकिंग की जा रही है. इसके अलावा टोल प्लाजा के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं.

संदिग्धों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान जारी

पंजाब में पठानकोट जिले के माधोपुर के नजदीक बंदूक दिखाकर ड्राइवर से एसयूवी कार छीनने वाले चार लोग अभी तक फरार हैं. साथ ही पुलिस ने इस घटना में 'आतंकी घटना' की संभावना को खारिज नहीं किया है. एसयूवी छीनने की घटना मंगलवार रात में उस समय हुई जब एक शख्स की उल्टी की शिकायत पर ड्राइवर ने कार रोक दी थी.

पंजाब पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को बताया, 'हम उन्हें पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं और जब तक वे पकड़े नहीं जाते हैं तब तक हम आतंकी दृष्टिकोण से इंकार नहीं कर सकते हैं.'

संदिग्धों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान जारी है. पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई की एक जानकारी के मुताबिक राज्य से जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के छह से सात आतंकवादी दिल्ली की ओर जाने की साजिश रच रहे हैं.

अधिकारी ने बताया कि कार छीनने के मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए कई टीमें बनाई गई हैं. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान बॉर्डर से जुड़े पठानकोट, गुरदासपुर, बटाला, अमृतसर (ग्रामीण) और तरनतारन में जवानों को सर्तक रहने और निगरानी बनाए रखने को कहा गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi