S M L

तेलंगाना ने आयुष्मान भारत को अपनाने से किया इंकार, बीजेपी हुई लाल

तेलंगाना ने केंद्र स्वास्थ्य योजना को लागू करने के बजाए राज्य सरकार की आरोह्यास्री स्वास्थ्य योजना को ही जारी रखने का फैसला किया

Updated On: Sep 23, 2018 10:21 PM IST

FP Staff

0
तेलंगाना ने आयुष्मान भारत को अपनाने से किया इंकार, बीजेपी हुई लाल

रविवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड में आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा योजना को हरी झंडी दिखाई. लेकिन दक्षिण भारतीय राज्य तेलंगाना ने राज्य की योजना का हवाला देते हुए इस योजना में हिस्सा नहीं लिया. तेलंगाना राज्य की योजना में लगभग 80 लाख परिवार शामिल हैं. राज्य सरकार के इस फैसले से बीजेपी खासी नाराज दिख रही है.

तेलंगाना ने केंद्र स्वास्थ्य योजना को लागू करने के बजाए राज्य सरकार की आरोह्यास्री स्वास्थ्य योजना को ही जारी रखने का फैसला किया. जब सवाल उठाया गया कि क्या केंद्र की स्वास्थ्य योजना लागू की जाएगी, तो अधिकारी ने कहा कि राज्य ने आरोह्यास्री योजना को जारी रखने का ही प्लान है क्योंकि यह एक मजबूत कार्यक्रम है. हालांकि बीजेपी ने इस फैसले पर निराशा व्यक्त की है और तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव को एक खत लिखकर इस फैसले को 'एकपक्षीय, लोकतांत्रिक और निरंकुश' कदम बताया.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार सिकंदराबाद के सांसद और बीजेपी नेता बंदारू दत्तात्रेय ने लिखा, 'इस योजना को राजनीतिक दृष्टिकोण से देखना गलत है. बल्कि राज्य के गरीब वर्गों के लाभों के बारे में सोचना चाहिए था.' उन्होंने कहा कि केसीआर को विपक्ष से परामर्श लेना चाहिए था. क्योंकि राज्य योजना में केवल 949 बीमारियां ही शामिल हैं, जबकि आयुष्मान भारत में 1350 बीमारियों का बीमा है. ये 'आर्थिक रूप से गरीबों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है, क्योंकि वे कैंसर जैसी बीमारियों के इलाज का लाभ उठा सकते हैं.' दत्तात्रेय ने केसीआर को अपने 'छोटी सोच वाली राजनीति' और राज्य में केंद्रीय योजनाओं के कार्यान्वयन से दूर रहने की सलाह दी.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi