विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

कांग्रेस साबित करे विधायकों की खरीदफरोख्त हुई है: जिला एसपी

एसपी ने कहा, कांग्रेस अपने आरोप वापस नहीं लेती, तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी

FP Staff Updated On: Jul 30, 2017 06:40 PM IST

0
कांग्रेस साबित करे विधायकों की खरीदफरोख्त हुई है: जिला एसपी

गुजरात में विधायकों के कथित खरीदफरोख्त मामलें में एक नया मोड़ आ गया है. तापी के जिला एसपी नरेंद्र अमीन ने कांग्रेस को चुनौती देते हुए कहा कि वो (कांग्रेस) सिद्ध कर दिखाए कि विधायक की खरीदफरोख्त की गई है. एसपी ने कहा, कांग्रेस अपने आरोप वापस नहीं लेती, तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी.

बता दें कि हाल ही में गुजरात के छह विधायों ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सनसनीखेज आरोप लगाया कि राज्यसभा चुनाव के लिए बीजेपी के साथ एसपी नरेंद्र अमीन विधायकों की खरीद-फरोख्त करा रहे हैं.

क्या है आरोप ?

कांग्रेस के आरोपों के मुताबिक पैसों का लालच देकर विधायकों की खरीद-फरोख्त की जा रही है. दक्षिण गुजरात के तीन कांग्रेस विधायकों को इसी तरह खरीदा गया.

व्यारा के विधायक पूना गावित ने एसपी पर आरोप लगाया था कि वो बाजार में थे. तब एसपी नरेंद्र अमीन आये और मिलने के लिए कहा. जब मिले तो बीजेपी में शामिल होने का ऑफर दिया. यह भी कहा कि बीजेपी में शामिल होने पर 5 से 10 करोड़ रुपये मिल जाएंगे. उसके बाद वो व्यारा से निकल गए और सीधे वरिष्ठ नेताओं को फोन किया.

आरोपों के बाद यह मामला गरमा गया था. जो बाद में चुनाव आयोग तक पहुंचा और आईजी ने चीफ सेक्रेटरी को इस मामले में पूरी 31 जुलाई तक रिपोर्ट तैयार करने के आदेश दिए हैं.

इसी बीच तापी एसपी ने कांग्रेस नेतृत्व को चुनौती दी है. तापी एसपी नरेंद्र ने तो यहां तक कहा कि वो पूनाजी गामित को जानते तक नहीं हैं और न तो उनसे मिले हैं. तापी एसपी ने आरोप वापस लेने के लिए एक हफ्ते का वक्त दिया है. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता, तो वो कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा सकते हैं.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi