S M L

तमिलनाडु ने बाढ़ के लिए केरल के दावों को खारिज किया

केरल सरकार ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर कर कहा था कि तमिलनाडु सरकार द्वारा मुल्लापेरियार बांध से अचानक पानी छोड़ा जाना राज्य में आई अभूतपूर्व बाढ़ की वजह बना

Updated On: Aug 24, 2018 04:51 PM IST

Bhasha

0
तमिलनाडु ने बाढ़ के लिए केरल के दावों को खारिज किया

तमिलनाडु सरकार ने केरल में आई बाढ़ के संदर्भ में राज्य के उस दावे को शुक्रवार को खारिज कर दिया कि मुल्लापेरियार बांध से अचानक पानी छोड़ा जाना पड़ोसी राज्य में भीषण जल प्रलय का कारण बना.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि भारी बारिश होने के चलते लबालब भरे 80 जलाशयों से पानी छोड़े जाने के कारण केरल में यह आपदा आई.

केरल सरकार ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर कर कहा था कि तमिलनाडु सरकार द्वारा मुल्लापेरियार बांध से अचानक पानी छोड़ा जाना राज्य में आई अभूतपूर्व बाढ़ की वजह बना.

पलानीस्वामी ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, ‘ऐसा नहीं कि केरल का महज एक हिस्सा बाढ़ से प्रभावित हुआ. 80 बांधों से अतिरिक्त पानी छोड़ा जाना इसकी वजह बना. (केरल) सरकार जानबूझकर गलत सूचना दे रही है ताकि 152 फुट के स्तर तक पानी जमा नहीं हो.’ बांध का संचालन एवं रखरखाव तमिलनाडु करता है.

उन्होंने कहा कि पानी अचानक नहीं छोड़ा गया बल्कि इसे समय-समय पर विभिन्न स्तरों पर चेतावनी जारी करने के बाद छोड़ा गया.

पलानीस्वामी ने कहा, ‘इसलिए, मैं यह कहना चाहता हूं कि भारी बारिश के चलते केरल में बांधों के भर जाने और उनसे अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के कारण बाढ़ आई.’ बांध की सुरक्षा तमिलनाडु और केरल के बीच विवाद का कारण रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi