S M L

तमिलनाडु: 'सवर्णों' ने दलित रसोइए को स्कूल में खाना बनाने से रोका

दलित रसोइया को तथाकथित उच्च जाति के लोगों ने खाना बनाने से रोक दिया और अन्य जगह स्थानांतरित करा दिया

Bhasha Updated On: Jul 20, 2018 07:00 PM IST

0
तमिलनाडु: 'सवर्णों' ने दलित रसोइए को स्कूल में खाना बनाने से रोका

मध्याह्न भोजन योजना के तहत तमिलनाडु के एक विद्यालय में खाना बनानेवाली दलित रसोइया को तथाकथित उच्च जाति के लोगों ने खाना बनाने से रोक दिया और अन्य जगह स्थानांतरित करा दिया. इस मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने तिरुपुर जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को तलब किया है.

तिरुपुर जिले के ओचमपलयम में रसोइया के रूप में पी पप्पल पिछले दो साल से तैनात थीं. दो सप्ताह पहले ही महिला के आग्रह पर उसका स्थानांतरण उनके अपने गृहनगर थिरुमलायगाउंडनपलायम गांव में कर दिया गया था. पुलिस ने बताया कि गाउंडर समुदाय के कुछ तथाकथित उच्चजाति के लोग इस दलित रसोइया की यहां तैनाती का विरोध कर रहे थे.

उन्होंने बताया कि स्कूल में पढ़ रहे इस समुदाय के बच्चों के अभिभावकों ने संबंधित अधिकारियों पर महिला के तबादले के लिए दबाव बनाया था. गुरुवार को स्कूल में एक समूह के लोगों ने प्रबंधन को स्कूल खोलने से रोक दिया और यह मामला ब्लॉक विकास अधिकारी के पास पहुंचा.

पुलिस ने बताया कि इसके बाद बीडीओ ने महिला का स्थानांतरण रद्द कर दिया और दोबारा उसकी तैनाती ओचमपलयम में कर दी. इसके बाद यह मामला जब जिला उप कलेक्टर श्रवण कुमार के पास पहुंचा तो उन्होंने हस्तक्षेप करते हुए महिला को अपने गांव में कार्य जारी रखने का आदेश दिया. इस संबंध में गाउंडर समुदाय के कई लोगों के लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई. इसी बीच राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने वरिष्ठ जिला अधिकारियों को इस मामले के संबंध में तलब किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi