S M L

13 मौत के बाद तमिलनाडु सरकार ने स्टरलाइट प्लांट पर हमेशा के लिए लगाया ताला

तमिलनाडु सरकार ने राज्य के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से वेदांता समूह के तांबा संयंत्र को सील करने के लिए कहा है. यह फैसला तमिलनाडु के डिप्टी सीएम ओ पन्नीर सेल्वम द्वारा सोमवार को तूतीकोरिन में पीड़ितों से मुलाकात के बाद लिया गया है

Updated On: May 28, 2018 07:18 PM IST

FP Staff

0
13 मौत के बाद तमिलनाडु सरकार ने स्टरलाइट प्लांट पर हमेशा के लिए लगाया ताला

तमिलनाडु सरकार ने तूतीकोरिन में स्थित स्टरलाइट प्लांट को हमेशा के लिए बंद करने का फैसला लिया है. तमिलनाडु सरकार ने राज्य के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से वेदांता समूह के तांबा संयंत्र को सील करने के लिए कहा है. हाल ही में स्टरलाइट प्लांट को बंद करने को लेकर तूतीकोरिन में हुए प्रदर्शन में 13 लोग पुलिस फायरिंग में मारे गए थे.

सोमवार को ही तमिलनाडु के डिप्टी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम ने तूतीकोरिन में अस्पताल का दौरा किया और 22 मई को स्टरलाइट कॉपर के खिलाफ प्रदर्शनक कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में घायल हुए लोगों का हालचाल जाना. इस मौके पर उन्होंने कहा था कि सरकार वेदांता लि. के स्टरलाइट कॉपर स्मेल्टर प्लांट को स्थाई तौर पर बंद करने के लिए आवश्यक कदम उठाएगी.

इस इलाके के लोगों का कहना था कि स्टरलाइट प्लांट की वजह से प्रदूषण फैल रहा है और इसकी वजह से कई तरह की बीमारियां हो रही हैं. स्थानीय लोग पिछले काफी समय से स्टरलाइट प्लांट के विस्तार का विरोध कर रहे थे. प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि प्लांट की वजह से इलाके का पानी दूषित हो गया है. इसलिए वह चाहते है कि प्लांट को बंद कर दिया जाए.

इससे पहले तमिलनाडु के सीएम ने ऐलान किया था कि विरोध-प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगों को 10-10 लाख रुपए और घायलों को 3 लाख रुपए दिए जाएंगे. साथ ही इस घटना की जांच के लिए एक कमीशन बनाया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi