S M L

सर्जिकल स्ट्राइक@2: सीमा पार कुछ बड़ा हुआ है, 2-3 दिन पहले हुई ठीक-ठाक कार्रवाई- राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, 'हमारे बीएसएफ का एक जवान, अभी उसके साथ जिस तरीके से बदसलूकी की है पाकिस्तान ने, शायद आपने देखा होगा. कुछ हुआ है. मैं बताऊंगा नहीं. हुआ है, ठीक-ठाक हुआ है. विश्वास रखना बहुत ठीक-ठाक हुआ है. दो-तीन दिन पहले, और आगे भी देखिएगा क्या होगा'

Updated On: Sep 29, 2018 09:53 AM IST

FP Staff

0
सर्जिकल स्ट्राइक@2: सीमा पार कुछ बड़ा हुआ है, 2-3 दिन पहले हुई ठीक-ठाक कार्रवाई- राजनाथ सिंह

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में घुसकर आतंकी ट्रेनिंग कैंपों को नष्ट करने के सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इशारों-इशारे में पाकिस्तान के खिलाफ फिर बड़ी कार्रवाई होने की बात कही है.

यूपी के मुजफ्फरनगर में एक कार्यक्रम के दौरान राजनाथ सिंह ने कहा, 'हमारे बीएसएफ का एक जवान, अभी उसके साथ जिस तरीके से बदसलूकी की है पाकिस्तान ने, शायद आपने देखा होगा. कुछ हुआ है. मैं बताऊंगा नहीं. हुआ है, ठीक-ठाक हुआ है. विश्वास रखना बहुत ठीक-ठाक हुआ है. दो-तीन दिन पहले, और आगे भी देखिएगा क्या होगा.'

गृह मंत्री ने कहा, ' मैंने अपने बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) के जवानों को कहा था, पड़ोसी है, पहली गोली मत चलाना, लेकिन एक भी गोली अगर उधर से चल जाती है तो फिर अपनी गोलियों को मत गिनना.'

गृह मंत्री ने जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले के एलओसी पर पिछले दिनों बीएसएफ के जवान नरेंद्र सिंह की बर्बरतापूर्ण हत्या के संदर्भ में यह टिप्पणी की. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाला से कहा कि पाकिस्तान को भारी जवाबी कार्रवाई में काफी नुकसान पहुंचा है.

शुक्रवार को बीएसएफ के महानिदेशक के के शर्मा ने भी कहा कि उनके जवान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हाल में अपने साथी के मारे जाने का बदला लेने के लिए दुश्मन के खिलाफ उचित समय का इंतजार कर रहे हैं.

30 सितंबर को रिटायर होने जा रहे शर्मा ने यह भी स्वीकार किया कि हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की कार्रवाई में मारे गए थे. उन्होंने कहा कि जवान के सीने में 3 गोलियां मारी गईं, उन्हें बाड़ के दूसरी तरफ खींचकर ले जाया गया, उनके पैर बांध दिए गए और शव को क्षत-विक्षत कर दिया गया.

क्या है सर्जिकल स्ट्राइक?

भारतीय स्पेशल कमांडोज ने 28 और 29 सितंबर, 2016 की आधी रात पीओके में घुसकर सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी. इस हमले में आंतकियों के कई ट्रेनिंग कैंपों और लॉन्च पैड को तहस-नहस कर दिया था. इस सैन्य कार्रवाई में कई आतंकी भी मारे गए थे जो सीमा पार भारत में घुसने की फिराक में यहां जुटे हुए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi