S M L

हैदराबाद: सर्जन ने मरीज के पेट में ही छोड़ दी चिमटी, 2 महीने बाद चला पता

पिछले साल 2 दिसंबर को हर्निया का ऑपरेशन हुआ था. मरीज के रिश्तेदारों ने अस्पताल के सामने इस मुद्दे को लेकर प्रदर्शन भी किया

Updated On: Feb 09, 2019 06:57 PM IST

FP Staff

0
हैदराबाद: सर्जन ने मरीज के पेट में ही छोड़ दी चिमटी, 2 महीने बाद चला पता

हैदराबाद स्थित निजाम इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है. अस्पताल में सर्जन द्वारा एक ऑपरेशन के बाद महिला के पेट में चिमटी छोड़ दिए जाने का मामला सामने आया है.

मंगलहाट निवासी 33 वर्षीय माहेश्वरी चौधरी ने पेट में असहनीय दर्द की शिकायत की. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया और और एक्स रे के बाद पता चला कि उनके पेट में चिमटी छूट गयी है. चिमटी के जरिए नसों को दबाने एवं पकड़ने का काम लिया जाता है.

निम्स के निदेशक डॉक्टर के. मनोहर ने कहा कि 'रोगी ने पेट में दर्द की शिकायत की थी. उसने 2 नवंबर को हर्निया की सर्जरी कराई थी. आज, परीक्षण के बाद उसके पेट में एक चिमटी पाई गई. मेडिकल टीम ने ऑपरेशन के बाद उसे निकाल दिया है. वह अब स्थिर है. आंतरिक समिति इसकी जांच करेगी.'

मरीज के पति ने सर्जरी के दौरान अपनी पत्नी के पेट में कैंची छोड़ने के लिए निज़ाम आयुर्विज्ञान संस्थान (NIMS) के डॉक्टरों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. मामले को लेकर एसीपी पंजागुट्टा,  विजय कुमार का कहना है, 'सर्जरी करने वाले डॉक्टरों की टीम के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. जांच जारी है.'

मरीज माहेश्वरी ने पिछले साल 2 नवंबर को इसी अस्पताल में हर्निया का ऑपरेशन कराया था. उसके करीबी रिश्तेदार का दावा था कि सर्जरी के कुछ दिनों के भीतर ही पेट दर्द की शिकायत शुरू हो गयी थी. हमने कई तरह की दवाईयों का इस्तेमाल किया लेकिन कुछ आराम नहीं हुआ. यह पूरी तरह से सर्जरी करने वालों की लापरवाही का नतीजा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi