S M L

सूरत में 11 साल की बच्ची के साथ रेप मामले में सड़कों पर उतरे लोग

कई लोगों ने आरोपियों के ऊपर इनाम की घोषणा भी कर दी है

FP Staff Updated On: Apr 16, 2018 01:39 PM IST

0
सूरत में 11 साल की बच्ची के साथ रेप मामले में सड़कों पर उतरे लोग

सूरत में 11 साल की बच्ची के साथ रेप की घटना से बवाल मच गया है. उन्नाव और कठुआ मामले के तुरंत बाद इस घटना के सामने आने से लोगों में गुस्सा भर चुका है. इस ममाले को लेकर सूरत में लोग कैंडल मार्च निकाल कर जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं. इतना ही नहीं कई लोगों ने आरोपियों के ऊपर इनाम की घोषणा भी कर दी है.

 

इस बीच गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने बताया है कि बच्ची ओडिशा से हो सकती है. उन्होंने कहा कि इस के लिए हमने ओडिशा के डीजीपी से बात की है और 8000 लापता बच्चों की तस्वीरे भी देखी हैं. उन्होंने कहा कि बच्ची को इंसाफ दिला कर रहेंगे.

 

वहीं इस मामले में जाने-माने बिजनसमैन आनंद मंहिद्रा ने ट्वीट कर अपना गुस्सा जाहिर किया है. उन्होंने कहा है कि 'जल्लाद का काम ऐसा नहीं की कोई करना चाहे, मगर बच्चियों के साथ रेप करने वालों के लिए में ये काम बेझिझक करूंगा.'

क्या है पूरा मामला

6 अप्रैल को सूरत के भेस्तन इलाके से पुलिस ने 11 साल की बच्ची का शव बरामद किया था. उसके शरीर पर 86 घाव पाए गए और प्राइवेट पार्ट्स भी बूरी तरह जख्मी थे. फॉरेंसिक रिपोर्ट से खुलासा हुआ बच्ची के साथ रेप किया गया था. बच्ची को 7 दिनों तक बंधक बना कर रखा गया और यातनाएं दी गई. इसके बाद उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई.

इतना ही नहीं उसके शरीर पर किसी लकड़ी के हथियार से किए गए घाव के निशान मिले हैं. हालांकि पुलिस अभी तक बच्ची की पहचान का पता नहीं लगा पाई है. पहचान पता करने के लिए पुलिस ने सूरत में लगभग 1200 और उत्तर गुजरात में 1000 पोस्टर और बैनर लगवाए हैं.

इसी के साथ पुलिस ने बच्ची की जानकारी देने पर 20,000 रुपए का इनाम रखा है. फिलहाल ये केस क्राइम ब्रांच को सौंपा जा चुका है. इसी के साथ पुलिस की टीम भी केस की जांच पड़ताल में जुटी हुई हैं. सूरत के पुलिस कमिश्नर के मुताबिक टीम हर उस घर में जाकर पूछताछ कर रही है जहां से बच्ची का शव बरामद किया गया था. इसी के साथ सीसीटीवा फुटेज को भी बारिकी से देखा जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi