S M L

सुनंदा पुष्कर की मौत की सच्चाई को कौन छुपा रहा है?

डॉ. सुधीर गुप्ता की अगुवाई वाली एम्स के मेडिकल बोर्ड ने सुनंदा पुष्कर की मौत की वजह जहर को बताया था.

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Jan 29, 2017 07:11 PM IST

0
सुनंदा पुष्कर की मौत की सच्चाई को कौन छुपा रहा है?

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत एक अबूझ पहेली बन गई है. 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में सुनंदा पुष्कर मृत पाई गई थी.

सुनंदा की मौत पर कई तरह की खबरें समय-समय पर मीडिया में आती रहती हैं. ताजा मामला है इस केस से जुड़ी एक और रिपोर्ट एसआईटी को मिलने की.

हालांकि, दिल्ली पुलिस ने सुनंदा पुष्कर की मौत पर किसी भी तरह की जांच रिपोर्ट मिलने से इनकार किया है. सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की एसआईटी ने एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया था. यह मेडिकल बोर्ड एम्स की तरफ से की गई जांच की पड़ताल कर रही है.

एम्स के फोरेंसिक विभाग के अध्यक्ष का दावा

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के फोरेंसिक विभाग के अध्यक्ष डॉ. सुधीर गुप्ता फर्स्ट पोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं कि सुनंदा की मौत जहर की वजह से ही हुई थी.

डॉ सुधीर गुप्ता के दावे के विपरित दिल्ली पुलिस की विशेष जांच टीम(एसआईटी) का कहना है कि अभी तक मौत की स्पष्ट वजहों का पता नहीं चल पाया है.

डॉ सुधीर गुप्ता की अगुवाई वाली अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के मेडिकल बोर्ड ने सुनंदा की मौत की वजह जहर को बताया था, जिसके बाद एसआईटी ने फरवरी 2015 में सुनंदा पुष्कर के विसरा के नमूने को जांच के लिए एफबीआई के वाशिंगटन स्थित लैब में भेजा था.

Sunanda Puskhar (L) and her husband Shashi Tharoor, India's Minister of State for Human Resource Development, share a moment during their wedding ceremony at Tharoor's house in Palakkad, in the southern Indian state of Kerala, August 22, 2010. Sunanda, 52, was found dead in a New Delhi hotel room on January 17, 2014, police said, days after she was involved in a row with a Pakistani woman journalist over Twitter. It was not immediately clear how Sunanda had died, Delhi police spokesman Rajan Bhagat said. Picture taken August 22, 2010. REUTERS/Stringer (INDIA - Tags: POLITICS CRIME LAW) - RTX17JAW

सुनंदा पुष्कर और शशि थरूर के विवाह की तस्वीर

सुनंदा पुष्कर की मौत से पहले उनके पति शशि थरूर के साथ तकरार की खबर आई थी. साल 2016 में दिल्ली पुलिस की एसआईटी ने केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिख कर नया मेडिकल बोर्ड बनाने की मांग की थी. इस बोर्ड में दिल्ली, चंडीगढ़ और पुडुचेरी के चार डाक्टरों की टीम शामिल है.

मौत की वजह पर सस्पेंस

एसआईटी ये पता करना चाह रही है कि सुनंदा की मौत की वजह कौन सा जहर था. एसआईटी के अनुसार एम्स के रिपोर्ट में ये स्पष्ट नहीं किया गया था कि सुनंदा की मौत किस प्रकार के जहर से हुई थी. ऐसा कहा जाता है कि सुनंदा बेचैनी के इलाज में ली जाने वाली दवा एलप्रैक्स लेती थी.

सुनंदा की बॉडी का पोस्टमार्टम करने वाले एम्स के डॉक्टर सुधीर गुप्ता फर्स्ट पोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं, ‘अगर कोई साधारण आदमी होता तो क्या मामला इतना लटकाया जा सकता था? क्योंकि सुनंदा का पोस्टमार्टम हमने किया है, मुझे ही पता है कि सुनंदा की मौत की वजह जहर ही है.’

एम्स के फॉरेंसिक विभाग के अध्यक्ष सुधीर गुप्ता आगे कहते हैं, ‘अलग से जो मेडिकल टीम का गठन किया गया है वह टीम दस्तावेजों की जांच कर रिपोर्ट कैसे दे सकती है? कोई नई टीम कैसे अंतिम रिपोर्ट दे सकती है. जब मेरी अगुवाई में तीन डॉक्टरों की टीम ने पोस्टमार्टम किया था और हमने अपनी रिपोर्ट दे दी तो फिर नई टीम गठन का क्या मतलब बनता है.’

शशि थरूर सहित 6 लोगों से पूछ-ताछ

दिल्ली पुलिस ने सुनंदा पुष्कर की मौत के बाद कई लोगों से पुछताछ की थी. जांच टीम में 6 लोगों का पॉलीग्राफी टेस्ट भी कराया था. सुनंदा पुष्कर मर्डर केस में एफबीआई और एम्स की रिपोर्ट्स की स्टडी के लिए बना मेडिकल बोर्ड अभी भी किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा है.

17 जनवरी 2014 को सुनंदा की लाश मिली थी. ठीक एक दिन पहले यानी 16 जनवरी 2014 को सुनंदा और शशि थरूर ने एक ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस किया था. जिसमें दोनो ने कहा था कि हम दोनों के बीच किसी भी तरह का कोई विवाद नहीं है.

India's Minister of State for Human Resource Development Shashi Tharoor (R) sits next to the body of his wife Sunanda Puskhar Tharoor inside an ambulance after a post-mortem at a hospital in New Delhi, January 18, 2014. Sunanda, 52, was found dead in a New Delhi hotel room on Friday, police said, days after she was involved in a row with a Pakistani woman journalist over Twitter. It was not immediately clear how Sunanda had died, Delhi police spokesman Rajan Bhagat said. REUTERS/Adnan Abidi (INDIA - Tags: CRIME LAW POLITICS) - RTX17JEI

सुनंदा पुष्कर के पार्थिव शरीर के पास बैठे शशि थरूर

मौत से पहले पाकिस्तानी पत्रकार से ट्विटर पर जंग

हम आपको बता दें कि 15 जनवरी 2014 की रात को सुनंदा के ट्विटर एकाउंट पर पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार से शशि थरूर के साथ संबंधों को लेकर सुनंदा और तरार में काफी बहस हुई थी. जिसको अगले दिन टेलीविजन चैनल्स और अखबारों में खूब सुर्खियां मिली थी. इसी पर 16 जनवरी को शशि थरूर और सुनंदा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी थी.

16 जनवरी की रात को अचानक दोनों के बीच क्या हुआ और क्यों 17 जनवरी को सुनंदा की मौत हुई, यह आज भी एक रहस्य ही बना हुआ है.

सुनंदा की मौत के बाद थरूर का बयान

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने सुनंदा के मौत के बाद मीडिया में कहा था कि उस रात को सुनंदा की तबियत कुछ खराब थी, क्योंकि सुबह मुझे जल्दी कांग्रेस के सम्मेलन में जाना था, इसलिए हम सुबह जल्दी उठ कर तालकटोरा स्टेडियम निकल गए. तालकटोरा स्टेडियम में ही कांग्रेस का सम्मेलन चल रहा था, और शशि थरूर के मुताबिक वहीं पर सुनंदा की मौत की जानकारी मिली.

आम लोगों के बीच सवाल उठना लाजिमी हो गया है कि क्या वाकई सुनंदा की मौत जहर से हुई है या फिर इस पर राजनीति की जा रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi