S M L

अब अपने जिले में NEET की परीक्षा दे सकेंगे छात्र, जावडेकर ने दी जानकारी

जावडेकर ने कहा, अगले सत्र से पूरे देश में एक ही प्रश्न पत्र होगा. जावडेकर ने यह भी कहा कि तमिलनाडु सरकार के सुझाव पर ही तमिल पेपर लाए गए थे

FP Staff Updated On: Jul 19, 2018 04:07 PM IST

0
अब अपने जिले में NEET की परीक्षा दे सकेंगे छात्र, जावडेकर ने दी जानकारी

अगले अकादमिक सत्र से नेशनल एलिजबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट (नेशनल) के तहत छात्र अपने जिले से मेडिकल की परीक्षा दे सकेंगे. केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने गुरुवार को राज्यसभा में यह जानकारी दी.

मॉनसून सत्र के दूसरे दिन एक राज्यसभा सदस्य ने परीक्षा देने वालों छात्रों की परेशानियों का जिक्र किया था. इसके जवाब में जावडेकर ने यह बात कही.

द हिंदू की एक खबर के मुताबिक, संसद में शून्य काल के दौरान तमिलनाडु से एआईएडीएमके सदस्य विजय सत्यनाथ ने नीट के तमिल पेपर की खामियों का मामला उठाया. उन्होंने 49 गलत सवालों का ठीकरा केंद्र सरकार पर फोड़ते हुए मानव संसाधन मंत्रालय से इस पर गौर करने का आग्रह किया. सत्यनाथ ने तमिलनाडु में मेडिकल सीट बढ़ाने की भी अपील की. हालांकि प्रदेश में मेडिकल एडमिशन के लिए पहले दौर की काउंसलिंग पहले ही बंद हो चुकी है.

सत्यनाथ ने नीट परीक्षा की खामियों की ओर इशारा करते हुए राज्यसभा में कहा, तमिलनाडु का छात्र सिक्किम में परीक्षा देने जाता है. जबकि तमिलनाडु के कई छात्रों का सेंटर पड़ोसी राज्यों में भी दिया गया था. सत्यनाथ ने यह भी कहा कि परीक्षा के दौरान लड़कियों के नथुनी, कानबाली और यहां तक कि दुपट्टा तक उतरवा लिए गए. उन्होंने कहा, छात्रों को हुई शारीरिक-मानसिक परेशानी के लिए सरकार जवाबदेह है.

इसका जवाब देते हुए जावडेकर ने कहा, अगले सत्र से पूरे देश में एक ही प्रश्न पत्र होगा. जावडेकर ने यह भी कहा कि तमिलनाडु सरकार के सुझाव पर ही तमिल पेपर लाए गए थे. उन्होंने सदन में मौजूद सदस्यों को आश्वस्त किया कि अगले सत्र से छात्रों को कहीं और पेपर देने नहीं जाना पड़ेगा. वे अपने जिले से ही परीक्षा दे सकेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi