विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

मदरसों में छात्रों को तलाक विषय पर पढ़ाया जाएगा पाठ

मदरसों में छात्रों को तलाक का सही तरीका बताया जाएगा, जो कुरान और हदीस के हिसाब से होगा

Bhasha Updated On: Aug 29, 2017 07:14 PM IST

0
मदरसों में छात्रों को तलाक विषय पर पढ़ाया जाएगा पाठ

सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक को लेकर ऐतिहासिक फैसला सुनाने के बाद बरेलवी मुसलमानों की आस्था के सबसे बड़े केंद्र दरगाह आला हजरत ने अपने मदरसों के पाठ्यक्रम में तलाक का विषय शामिल करने का फैसला किया है.

दरगाह आला हजरत के दारुल इफ्ता ‘मंजरे-ए-इस्लाम‘ के अध्यक्ष मुफ्ती सैय्यद कफील हाशमी ने मंगलवार को कहा कि तलाक को लेकर शरीयत में कई तरह की शर्तें हैं, लेकिन तलाक के अधिकतर मामलों में इनकी अनदेखी की जाती है. लोगों में तलाक के बारे में सही जानकारी ना होना भी गड़बड़ी की बड़ी वजह है.

उन्होंने कहा कि अब मदरसों के छात्रों को तलाक का सही तरीका बताया जाएगा, जो कुरान और हदीस के हिसाब से होगा. दरगाह आला हजरत की तरफ से देश भर के बरेलवी मदरसों के लिए जल्द ही इस सिलसिले में आदेश जारी किया जाएगा.

हाशमी ने बताया कि मदरसों में तलाक का सही तरीका जानने के बाद छात्र अपने आसपास के इलाकों में तलाक को लेकर परामर्श भी देंगे. मदरसों में होने वाली पैरेंट्स-टीचर मीटिंग (पीटीएम) में भी तलाक का सुन्नत तरीका बताया जाएगा.

उन्होंने बताया कि दरगाह आला हजरत ने दुनिया भर के उलमा का उर्स और जलसों की तकरीरों में भी शरीयत की रोशनी में तलाक के सही तरीकों की जानकारी देने की अपील की है.

हाशमी ने बताया कि दरगाह आला हजरत द्वारा तलाक के सुन्नत तरीकों की जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi