S M L

गुजरात के स्कूलों में आज से 'Yes Sir' और 'Present Sir' नहीं बोलेंगे छात्र, जानिए क्यों?

रूपाणी सरकार ने नोटिस जारी कर सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पहली से लेकर 12वीं कक्षा तक अटेंडेंस में इसकी जगह 'जय हिंद' और 'जय भारत' बोलने का निर्देश दिया है

Updated On: Jan 01, 2019 01:21 PM IST

FP Staff

0
गुजरात के स्कूलों में आज से 'Yes Sir' और 'Present Sir' नहीं बोलेंगे छात्र, जानिए क्यों?

नए साल से गुजरात के स्कूलों में छात्र अटेंडेंस (हाजिरी) में छात्र 'यस सर' और 'प्रेजेंट सर' नहीं बोलेंगे बल्कि इसकी जगह अब वो 'जय हिंद' और 'जय 'भारत' बोलेंगे.

विजय रूपाणी सरकार ने सोमवार को बयान जारी कर सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में पहली से लेकर 12वीं कक्षा तक में इसे लागू करने का निर्देश दिया है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार राज्य के शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा ने इस संबंध में रिव्यू मीटिंग करने के बाद ऐसा करने का निर्णय लिया. सरकार ने इस फरमान के पीछे दलील दी है कि इससे छात्रों में बचपन से देशभक्ति की भावना जागेगी.

उन्होंने कहा कि कोई भी छात्र या छात्रा अपने पूरे स्कूली जीवन में कम से कम 10 हजार बार 'यस सर' और 'यस मैडम' कहता है. यदि इसकी जगह वो 'जय हिंद' और 'जय भारत' कहना शुरू कर दें तो उनके भीतर शुरू से देशभक्ति की भावना पैदा होगी.

वहीं कांग्रेस ने अटेंडेंस में किए गए इस बदलाव पर एतराज जताया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi