S M L

केस वापस लेने के बजाए पत्थरबाजों को गोली मार देनी चाहिए: BJP सांसद

पिछले ही हफ्ते केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से कहा था कि जम्मू कश्मीर सरकार द्वारा पत्थरबाजी करने वालों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने से जहां सुरक्षा बलों का मनोबल कम होगा

Updated On: Jun 11, 2018 02:35 PM IST

FP Staff

0
केस वापस लेने के बजाए पत्थरबाजों को गोली मार देनी चाहिए: BJP सांसद

बीजेपी के राज्यसभा सासंद डीपी वत्स ने पत्थरबाजों को लेकर बड़ा बयान दिया है. न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, बीजेपी सांसद ने कहा है कि कश्मीर में पत्थरबाजों के केस वापस लेने के बजाए उन्हें गोली मार देनी चाहिए.

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार शनिवार को डीपी वत्स ने कहा, 'मैंने अखबारों में कश्मीर में पत्थरबाजों पर दर्ज केस वापस लिए जाने के बारे में ढंग से नहीं पढ़ा, लेकिन मुझे लगता है कि पत्थरबाजों को गोली मार देनी चाहिए.'

डीपी वत्स का बयान गृहमंत्री राजनाथ सिंह के उस बयान के बाद आया, जिसमें उन्होंने (राजनाथ सिंह) पहली बार पत्थरबाजी करने वालों का केस वापस लेते हुए इसे 'बच्चों की गलती' बताते हुए कहा था कि उनके भविष्य को खतरे में नहीं डाला जा सकता.

कश्मीर दौरे पर पहुंचे राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा, 'हमने पहली बार पत्थरबाजी में शामिल 10 हजार बच्चों पर दर्ज केस वापस लेने का फैसला किया है ताकि उनका भविष्य खतरे में न पड़े.'

पिछले ही हफ्ते केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से कहा था कि जम्मू कश्मीर सरकार द्वारा पत्थरबाजी करने वालों के खिलाफ दर्ज केस वापस लेने से जहां सुरक्षा बलों का मनोबल कम होगा, वहीं आतंकवादी अपनी गतिविधियों में आम लोगों के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित होंगे.

केंद्र ने कहा था कि यह राज्य सरकार का कर्तव्य है कि वह सशस्त्र बलों के मानवाधिकारों की रक्षा के लिए पत्थरबाजों और उत्तेजक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे.

केंद्र ने यह जवाब सेना में कार्यरत दो और एक रिटायर ऑफिसर के बच्चों द्वारा दायर याचिका के जवाब में दिया था. अपनी याचिका में सेना अधिकारियों के बच्चों ने पत्थरबाजी करने वालों के खिलाफ दर्ज केस वापस लिए जाने पर सवाल खड़े किए थे.

(साभार: न्यूज18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi