S M L

बेंगलुरू में पूर्व पार्षद के घर से मिला पुराने नोटों का भंडार

नोटबंदी से बेकार हुए 500-1000 रूपए के नोटों के बदले नए नोट देने के गोरखधंधे में था शामिल

Updated On: Apr 14, 2017 11:35 PM IST

Bhasha

0
बेंगलुरू में पूर्व पार्षद के घर से मिला पुराने नोटों का भंडार

नोटबंदी लागू होने के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों में पुराने नोट मिलने का सिलसिला जारी है. बेंगलुरु में एक पूर्व पार्षद के घर और दफ्तर की तलाशी के दौरान पुलिस ने बंद हो चुके 500 और 1000 रूपए के पुराने नोटों का भंडार बरामद किया है.

शुक्रवार को पुलिस अपहरण के एक मामले में पार्षद के घर और दफ्तर की तलाशी लेने पहुंची थी. जहां से ये नोट बरामद हुए.

पुलिस ने बताया कि वी नागराज एक ‘हिस्ट्री शीटर’ है. तलाशी के दौरान वह ना तो अपने घर, ना ही अपने दफ्तर में मौजूद था. वह कथित तौर पर फरार हो गया था.

बेंगलुरू ईस्ट के एसीपी हेमंत निंबालकर ने संवाददाताओं को बताया कि, तलाशी के दौरान पुलिस को पुराने नोट, जमीन के दस्तावेज और धारदार हथियार मिले हैं.

पूर्व पार्षद के खिलाफ किडनैपिंग का मुकदमा दर्ज

बताया जा रहा है कि पिछले साल 8 नवंबर को नोटबंदी लागू होने के बाद से नागराज पुराने नोटों को नए से बदलने के गोरखधंधे में लगा हुआ था. उस पर शहर के एक कारोबारी के किडनैपिंग का भी आरोप है.

इसके अलावा नागराज के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले में भी आपराधिक मुकदमा चल रहा है. इसी मामले में उसके खिलाफ वारंट जारी हुआ था.

नागराज ने 2002 में बेंगलुरु नगर महापालिका के पार्षद का चुनाव प्रकाश नगर वार्ड से निर्दलीय जीता था. 2013 में उसने विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi