S M L

तमिलनाडु सरकार: एक बार बंद हो गया तो बंद हो गया, दोबारा नहीं खुलेगा स्टरलाइट संयंत्र

राज्य सरकार ने कहा है कि वेदांता लिमिटेड की इकाई को सील करने का फैसला जनभावनाओं को देखते हुए किया गया है

Updated On: Sep 22, 2018 04:34 PM IST

Bhasha

0
तमिलनाडु सरकार: एक बार बंद हो गया तो बंद हो गया, दोबारा नहीं खुलेगा स्टरलाइट संयंत्र

तमिलनाडु सरकार ने शनिवार को कहा कि तूतीकोरिन में स्टरलाइट इंडस्ट्रीज के संयंत्र को फिर से नहीं खोला जाएगा क्योंकि वेदांता लिमिटेड की इकाई को सील करने का फैसला जनभावनाओं को देखते हुए किया गया है.

राज्य सरकार ने यह टिप्पणी ऐसे वक्त की है जब राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) द्वारा नियुक्त तीन सदस्यीय पैनल दक्षिणी जिले में तांबा पिघलाने वाले संयंत्र का दौरा करने वाला है. इस पैनल की अध्यक्षता मेघालय उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश तरूण अग्रवाल कर रहे हैं.

मत्स्य पालन मंत्री डी जयकुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारा रुख है कि एक बार बंद हो गया तो बंद हो गया. सरकार ने नीतिगत फैसला किया और उस आधार पर संयंत्र को सील किया गया. वे (वेदांता) सील किये जाने के खिलाफ एनजीटी में गए और एक पैनल का गठन हुआ. हमने उच्चतम न्यायालय जाकर कहा कि पैनल की जरूरत नहीं है.

जयकुमार ने कहा कि स्थानीय लोग संयंत्र के खिलाफ हैं और इसी कारण से सरकार ने तूतीकोरिन के लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए इसे सील करने का फैसला किया.

उन्होंने कहा, 'एक बार बंद हो गया तो बंद हो गया. सरकार द्वारा इसे फिर से खोले जाने की कोई संभावना नहीं है.’'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi