S M L

तूतीकोरिन पुलिस फायरिंग: हिंसा के विरोध में DMK का बंद, ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में स्टरलाइट प्लांट के खिलाफ के प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस फायरिंग को लेकर डीएमके ने शुक्रवार को बंद बुलाया है

Updated On: May 25, 2018 11:44 AM IST

FP Staff

0
तूतीकोरिन पुलिस फायरिंग: हिंसा के विरोध में DMK का बंद, ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में स्टरलाइट प्लांट के खिलाफ के प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस फायरिंग को लेकर डीएमके ने शुक्रवार को बंद बुलाया है. बंद के कारण तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में ट्रांसपोर्ट सर्विसेस के बुरी तरह प्रभावित होने के आसार नजर आ रहे हैं. CITU ऑटो ड्राइवर्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी शिवाजी ने फ़र्स्टपोस्ट को बताया कि तमिलनाडु में सुबह के छह बजे से लेकर शाम के छह बजे तक सड़कों पर एक भी ऑटो नहीं दौड़ेगा.

डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने गुरुवार को बंद का आह्वान किया था. वहीं पुड्डुचेरी में सत्ताधारी कांग्रेस ने भी बंद का समर्थन कर दिया है. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में तमिलनाडु के तूतीकोरिन में स्टरलाइट के खिलाफ रैली के दौरान प्रदर्शनकारियों की मौत के मामले में अदालत की निगरानी में सीबीआई जांच कराने की मांग वाली एक जनहित याचिका दायर की गई. वकील जी एस मणि ने याचिका दायर की, जिस पर अगले सप्ताह सुनवाई हो सकती है. याचिका में तूतीकोरिन जिलाधीश, पुलिस अधीक्षक और अन्य पुलिस अधिकारियों के खिलाफ हत्या के अपराध के लिए प्राथमिकी दर्ज करने का अनुरोध भी किया गया है.

इसमें तूतीकोरिन, तिरुनेलवेली और कन्याकुमारी जिलों में इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने की भी मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि अदालत की निगरानी में सीबीआई जांच कराई जाए क्योंकि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की संलिप्तता के कारण राज्य पुलिस इस घटना की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच करने में सक्षम नहीं है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi