S M L

सनकी आशिक ने चाकू मारकर युवती की ली जान, फेसबुक पर किया था प्रपोज

तीन महीने पहले फेसबुक पर दोनों में दोस्ती हुई थी, इसके बाद मैसेंजर पर चैटिंग होने लगी, फिर फेसबुक पर युवती को शादी का प्रपोजल दिया था लेकिन उसने साफ मना कर दिया था

Updated On: Sep 15, 2018 02:08 PM IST

FP Staff

0
सनकी आशिक ने चाकू मारकर युवती की ली जान, फेसबुक पर किया था प्रपोज

इंदौर के एमआईजी थाना क्षेत्र में बीते गुरुवार रात को चाकू की मार से घायल हुई युवती की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. खबर है कि एकतरफा प्रेम में एक सिरफिरे आशिक ने दरांती से उस युवती के चेहरे, सिर, गर्दन और पीठ पर करीब 38 वार किए थे.

दरअसल तीन महीने पहले फेसबुक के जरिए दोनों में दोस्ती हुई थी. इसके बाद दोनों में मैसेंजर पर चैटिंग होने लगी. युवक ने फेसबुक पर ही युवती को शादी का प्रपोजल दिया था लेकिन उस युवती ने शादी करने से साफ मना कर दिया था. इसके बाद से ही वह युवक चेहरे पर रूमाल बांधकर उस युवती का पीछा करता था. उसने कई बार युवती को दूसरे लड़कों से बात करते, और उनके साथ घूमते-फिरते देख लिया था. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नाराज होकर उसने एक सप्ताह पहले ही युवती की हत्या की योजना बनाई थी.

मीडिया संस्थान में काम करती थी सुप्रिया

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृत युवती का नाम सुप्रिया जैन है. उसकी उम्र 25 वर्ष थी. वह सागर जिले के मंडी बमोरा की रहने वाली थी. पुलिस ने बताया कि उसकी हत्या करने वाले युवक कमलेश साहू को गिरफ्तार कर लिया गया है. कमलेश साहू गणेशगंज साहपुरा जिले का रहने वाला है. पुलिस ने बताया कि सुप्रिया अपने भाई संस्कार के साथ सांघी कॉलोनी स्थित एक बिल्डिंग में किराए के फ्लैट में रहती थी. वह वर्ष 2012 में स्कूल की पढ़ाई समाप्त करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए इंदौर आ गई थी. कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद सुप्रिया इंदौर में ही एक मीडिया संस्थान में कुछ महीनों से नौकरी कर रही थी.

पुलिस ने आरोपी को रंगे हाथ पकड़ा

गुरुवार रात ऑफिस का काम पूरा करने के बाद उसे किसी साथी ने उसकी बिल्डिंग के बाहर छोड़ा था. इसी दौरान उस पर आरोपित कमलेश साहू ने जानलेवा हमला कर दिया. उस वक्त गली में दो बाइक सवार भी मौजूद थे. दोनों ने जब बीचबचाव करने की कोशिश की तो कमलेश ने उन्हें दरांती दिखाकर भगा दिया था. दोनों बाइक सवार ने गली के दूसरे लोगों को मदद के लिए आवाज लगाई लेकिन किसी ने भी युवती को बचाने का प्रयास नहीं किया. इसी दौरान इलाके में गश्त कर रही पुलिस की गाड़ी घटनास्थल से गुजरी और उसने आरोपित को हमला करते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया.

फेसबुक मैसेंजर पर किया था प्रपोज

पुलिस की पूछताछ में कमलेश ने बताया कि 6 महीने पहले उसे सुप्रिया स्कूटी पर किसी युवक के साथ दिखी थी. इसके बाद उसने फेसबुक पर सुप्रिया की तलाश और उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा। मैसेंजर पर चैटिंग के दौरान उसने सुप्रिया से शादी करने की बात कही लेकिन सुप्रिया ने कमलेश को साफ मना कर दिया. इसके बाद कमलेश ने उसे एक बार मिलने के लिए बुलाया पर सुप्रिया ने वो भी मना कर दिया.

फेसबुक प्रोफाइल से ढूंढा घर का लोकेशन

कमलेश ने पुलिस को बताया कि उसने सुप्रिया के फेसबुक प्रोफाइल से उसकी लोकेशन ढूंढ निकाली थी. कई दिनों तक तलाश करने के बाद उसे सुप्रिया के घर और ऑफिस का पता भी मिल गया था. वह हर रोज अपने चेहरे पर रूमाल बांधकर साइकिल से उसका पीछा करता था. ऑफिस के बाहर दिनभर उसका इंतजार करता था. कई बार उसने सुप्रिया को कार व बाइक पर युवकों के साथ आते जाते देखा था. पुलिस ने बताया कि कमलेश को सुप्रिया का दूसरे युवकों से बात करना बिल्कुल पसंद नहीं था. सुप्रिया को दूसरे युवकों के साथ देखने पर उसे गुस्सा आ जाता था.

स्कूल में पहली बार मिले थे कमलेश और सुप्रिया

वहीं एसआई प्रदीप गोलिया को पूछताछ में कमलेश ने बताया कि साल 2005 में दोनों की स्कूल में पहली बार पहचान हुई थी. इसके बाद साल 2012 में कमलेश ने पहली बार उसे शादी के लिए प्रपोज किया था. उस वक्त सुप्रिया के मना करने पर उसने अपने हाथ की नस काट ली थी. इसकी जानकारी लगने के बाद सुप्रिया ने कमलेश से कहा था कि वह जब नौकरी करने लगेगी तो उससे शादी कर लेगी. हालांकि बाद में सुप्रिया शहर छोड़कर कहीं चली गई थी. वहीं कमलेश भी 4 साल पहले सीए की पढ़ाई करने के लिए इंदौर आ गया था.

दो बार परीक्षा देने के बाद सफल नहीं होने पर कमलेश नौकरी करने लगा था. वह कोठारी मार्केट इलाके में किराए में रहता था और एक होटल में वेटर का काम करता था. कमलेश के पिता गांव में सब्जी बेचते हैं. वहीं पुलिस को मृत युवती की एक सहेली ने बताया कि स्कूल में कमलेश की हरकतों की वजह से छात्राएं उससे डरती थीं. कोई भी उससे बात नहीं करता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi