S M L

फर्जी खबर रोकने के लिए सोशल मीडिया से जुड़े 700 प्लेटफार्म बंद किए गए: सरकार

रविशंकर प्रसाद ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि फर्जी खबरों को रोकने के लिए सरकार ने फेसबुक और ट्विटर सहित सभी सोशल मीडिया कंपनियों की जवाबदेही तय करते हुए इस पर कड़ी निगरानी के लिए कहा है

Updated On: Aug 03, 2018 05:51 PM IST

Bhasha

0
फर्जी खबर रोकने के लिए सोशल मीडिया से जुड़े 700 प्लेटफार्म बंद किए गए: सरकार

सरकार ने सोशल मीडिया के मार्फत फर्जी खबरों का प्रसार रोकने के लिए पुख्ता कार्रवाई करने का दावा करते हुए कहा है कि फेसबुक और ट्विटर जैसे प्रमुख सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़े लगभग 700 वेबपोर्टल के यूआरएल बंद किए गए हैं.

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान बताया कि फर्जी खबरों को रोकने के लिए सरकार ने फेसबुक और ट्विटर सहित सभी सोशल मीडिया कंपनियों की जवाबदेही तय करते हुए इस पर कड़ी निगरानी के लिए कहा है.

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया ने बेशक, जनसामान्य को सवाल उठाने का सशक्त मंच मुहैया कराया है. सरकार ने सवाल उठाने के जनता के अधिकार को मजबूत बनाते हुए इसकी आड़ में फर्जी खबरों को रोकने की भी पहल की है. इसके तहत सोशल मीडिया कंपनियों ने आईटी कानून के दायरे में कार्रवाई करते हुये तमाम यूआरएल ब्लॉक किए हैं.

प्रसाद ने बताया कि इस साल जून तक फेसबुक ने 499, यूट्यूब ने 57, ट्विटर ने 88, इंस्टाग्राम ने 25 और टंबलर ने 28 यूआरएल बंद किए हैं. उल्लेखनीय है कि कई सदस्यों ने सोशल मीडिया के माध्यम से फैली फर्जी खबरों के कारण पीट पीट कर मार डालने की घटनाओं का हवाला देते हुए सरकार से इसे रोकने के लिये किये गये उपायों की जानकारी मांगी थी.

इसके जवाब में प्रसाद ने बताया कि निसंदेह भारत एक उभरती हुयी डिजिटल ताकत है, लेकिन इससे इतर सोशल मीडिया कंपनियां ‘कंटेंट’ को लेकर अपनी जिम्मेदारी से नहीं बच सकती हैं. उन्होंने मीडिया की भी जिम्मेदारी तय करने से जुड़े सवाल के बारे में कहा कि उन्होंने विभागीय अधिकारियों को इस बारे में भारतीय प्रेस परिषद से मशविरा करने को कहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi