S M L

अनजाने में खुद फेक न्यूज़ फैला गईं स्मृति ईरानी

कुछ ही दिन पहले ईरानी फेक न्यूज पर सख्त रवैये की बात करने के चलते चर्चा में थी

FP Staff Updated On: Apr 09, 2018 02:44 PM IST

0
अनजाने में खुद फेक न्यूज़ फैला गईं स्मृति ईरानी

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी अनजाने में फेक न्यूज़ फैलाने का शिकार हुई हैं. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही ईरानी ने फेक न्यूज़ फैलाने वालों पर कड़ी कार्यवाई की बात की थी. इस प्रस्ताव को पीएमओ द्वारा खारिज कर दिया गया था.

केंद्रीय मंत्री डॉ जीतेंद्र प्रसाद ने एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में कहा गया था कि 6 अप्रैल को देश के चर्चित चुनाव आयुक्त टीएन शेषन नहीं रहे. एक दिन पहले ही उनकी पत्नी की मौत हुई थी. दोनों के बच्चे नहीं हैं. एक ईमानदार कैबिनेट सचिव और बाद में मुख्य चुनाव आयुक्त, जिन्होंने अपनी छाप छोड़ी. कई मायनों में...एक युग का अंत.

जाहिर है कि केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र प्रसाद ने गलती से एक फेक खबर को सच मानकर ट्वीट कर दिया. सोशल मीडिया पर रह रहकर प्रसिद्ध लोगों के मरने की फेक न्यूज़ आती रहती है. इनमें से लगभग सभी फेक होती हैं. ऐसे में स्मृति ईरानी ने केंद्रीय मंत्री के ट्वीट को सच मानकर उसे ओम शांति लिखते हुए ट्वीट कर दिया.

टीएन शेषन अभी जिंदा हैं. हालांकि उनकी पत्नी की हाल में ही मृत्यु हुई है. दोनों ट्वीट को जल्द ही डिलीट कर दिया गया. लेकिन तब तक इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट लिए जा चुके थे. वैसे स्मृति ईरानी इससे पहले साल की शुरुआत में श्रीनगर से लेह 15 मिनट में पहुंचने का ट्वीट कर चुकी हैं. ये भी फेक खबर थी. लेकिन स्मृति का ये ट्वीट अभी भी मौजूद है. दोनों केंद्रीय मंत्रियों ने इस फेक न्यूज को ट्वीट करने पर कोई खेद या सफाई भी नहीं दी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi