S M L

#SmogInDelhi: पॉल्यूशन में ऐसे रखें अपना खयाल, जरूरी बातें

वक्त आ गया है कि प्रदूषण के खिलाफ असली और मजबूत लड़ाई लड़ी जाए. इन अभियानों और कोशिशों में हिस्सा लें.

Updated On: Nov 08, 2017 06:48 PM IST

FP Staff

0
#SmogInDelhi: पॉल्यूशन में ऐसे रखें अपना खयाल, जरूरी बातें

दिल्ली घने स्मॉग के चादर में लिपटी हुई है. बाहर निकलने पर आंखों में जलन हो रही हैं. सांस लेने में तकलीफ हो रही है. बुरा हाल है. आशंका थी कि दीवाली के बाद से ही हालत खराब हो जाएगी लेकिन हालात में कुछ सुधार आया था लेकिन 7 नवंबर से अचानक पूरे शहर पर स्मॉग छा गया है.

8 नवंबर को हालात और भी खराब हैं. बुरी बात ये है कि अब इसके सुधरने की कोई उम्मीद नहीं है. अब पूरी सर्दियों में ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है. दिल्ली सरकार ने रविवार तक स्कूलों को बंद रखने का आदेश दे दिया है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि लोगों को घरों से कम निकलना चाहिए.

लेकिन सबसे बड़ा सवाल है- आखिर कब तक ऐसा चलेगा? और हालात को कैसे थोड़ा कम खतरनाक किया जा सकता है? अपनी सुरक्षा कैसे सुनिश्चित करें?

सरकार तो जो कदम उठा रही है, वो है ही, लेकिन आपको खुद अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेनी होगी क्योंकि ये एक हेल्थ इमरजेंसी है. हम नीचे बता रहे हैं कुछ ऐसे आसान और कारगर तरीके, जिनसे आप इस इमरजेंसी में काफी आराम से खुद को सुरक्षित रख सकते हैं.

- सबसे ज्यादा जरूरी, सबसे पहले

सबसे पहले आपको बाजार जाकर मास्क खरीदना चाहिए. इसे एक अहम जरूरत समझें. बाहर बिना मास्क के बिल्कुल मत निकलिए. बाजार में कई तरह के मास्क उपलब्ध हैं. इनकी कीमत 90 से 400 तक की हो सकती है. लेकिन अच्छा होगा कि आप अच्छी क्वालिटी के मास्क ही लें. सेहत की सुरक्षा सबसे पहले. बाहर ही क्यों, और बुरी बात तो ये है कि अब घरों और ऑफिसों में भी हालत खराब है. घरों के अंदर भी आंखों में जलन और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत हो रही है, ऐसे में जितना मुमकिन हो, मास्क लगाकर रखें.

- जॉगिंग या खुले में एक्सरसाइज को बाय-बाय कह दीजिए

आप एक्सरसाइज क्यों करते हैं? स्वस्थ रहने के लिए. सुबह-सुबह की हवा आपकी बॉडी के लिए बहुत अच्छी होती है लेकिन इस हालात में आप बाहर की हवा जितनी कम खींचे, उतना अच्छा. ये हवा आपकी बॉडी को नुकसान ही पहुंचाएगी. डॉक्टर्स भी आजकल यही सलाह दे रहे हैं कि अगर आप खुले पार्क में एक्सरसाइज करते हैं या जॉगिंग करते हैं, तो ऐसा करना बंद कर दें.

- कम करें बिजली की खपत

बिजली के उपकरणों का इस्तेमाल ज्यादा करने से वायु प्रदूषण बढ़ता है. आप अपने घरों में कम बिजली का इस्तेमाल करके घर के वातावरण को साफ रख सकते हैं.

- खुले में आग न लगाएं

खुले में लकड़ी या कूड़ा-कचरे या लकड़ी में आग न लगाएं. इनसे निकल रहा धुआं हालात को और खराब ही करेगा.

- एयर प्यूरिफायर का इस्तेमाल

एयर प्यूरिफायर का इस्तेमाल करें. वैसे तो बाजार में महंगे एयर प्यूरिफायर आते हैं लेकिन घर पर भी सस्ते एयर प्यूरिफायर तैयार किए जा सकते हैं. घरों में हवा साफ रखने वाले पौधों को जगह दें. यूं तो घरों में गार्डनिंग की आदत डालनी ही चाहिए लेकिन इन हालातों में एयर प्यूरिफाइंग पौधे काफी मददगार साबित हो सकते हैं.

- बच्चों पर रखें नजर

बच्चों को बाहर खेलने के लिए न भेजें. हालात बच्चों के बाहर खेलने लायक बिल्कुल नहीं हैं. बच्चों को इनडोर गेम्स में ही उलझाएं.

- खाने-पीने की आदतों में करें बदलाव

उबला या फिल्टर्ड पानी ही पिएं. तुलसी-अदरक की चाय बॉडी के इम्यून के लिए काफी अच्छी होती है.

- पब्लिक ट्रांसपोर्ट

पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करें. पैदल चलें या कारपूल करें. पर्सनल गाड़ियों का इस्तेमाल न करके आप काफी हद तक प्रदूषण पर कंट्रोल कर सकते हैं.

आखिरी और जरूरी बात- 

बस ये कॉशन लेना काफी नहीं. वक्त आ गया है कि प्रदूषण के खिलाफ असली और मजबूत लड़ाई लड़ी जाए. इन अभियानों और कोशिशों में हिस्सा लें.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi