S M L

'मंदिर जल्दी बनाएंगे' के नारों से अयोध्या गूंज रही, अल्पसंख्यकों में डर का माहौल

शिवेसना और वीएचपी के सदस्य, 2019 के चुनाव से पहले केंद्र सरकार पर राम मंदिर पर फैसला लेने के लिए दबाव डालने की कोशिश में है

Updated On: Nov 24, 2018 01:52 PM IST

FP Staff

0
'मंदिर जल्दी बनाएंगे' के नारों से अयोध्या गूंज रही, अल्पसंख्यकों में डर का माहौल

अयोध्या में इस वक्त तनाव का माहौल बना हुआ है. इसके चलते शहर को एक किले में तब्दील कर दिया गया है. शिवेसना और वीएचपी के सदस्य, 2019 के चुनाव से पहले केंद्र सरकार पर राम मंदिर पर फैसला लेने के लिए दबाव डालने की कोशिश में है. अयोध्या में दो बड़ी सभा होने जा रही हैं. शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे की दो दिवसीय अयोध्या यात्रा से पहले बीते शुक्रवार रात को मुंबई से चली ट्रेनों का अयोध्या पहुंचना शुरू हो गया.

वीएचपी की सभा में आरएसएस के भी 1 लाख कार्यकर्ता शामिल होंगे

सोमवार को होने वाली विश्व हिन्दू परिषद की सभा में 1 लाख कार्यकर्ताओं के शामिल होने की संभावना है. सूत्रों ने बताया कि वीएचपी की सभा में आरएसएस के भी एक लाख कार्यकर्ता शामिल होंगे. इसके अलावा बड़ी संख्या में साधु-संतों के भी रैली में शामिल होने की संभावना है. राम मंदिर के लिए बजे इस बिगुल के बीच मंदिर बनाने के लिए लगने वाला नारा भी बदलता दिखाई दे रहा है. पहले जो नारा 'मंदिर वहीं बनाएंगे था' वह अब 'मंदिर जल्दी बनाएंगे' में तब्दील हो चुका है. शिवसेना ने बीजेपी को स्पष्ट संदेश देते हुए 'पहले मंदिर फिर सरकार' कहकर अपना दृष्टिकोण साफ कर दिया है.

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद स्थल पर धारा 144 लागू कर दी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हिंसा के डर से कुछ अल्पसंख्यक अयोध्या छोड़ रहे हैं. अयोध्या में रहने वाले अल्पसंख्यक को डर है कि कहीं 1992 की घटना फिर से न दोहरा दी जाए. इस बीच फैजाबाद जिला प्रशासन ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद स्थल पर धारा 144 लागू कर दी है. यूपी पुलिस ने रविवार को धर्म सभा के दौरान गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए पूरे राज्य में अलर्ट जारी किया है. सरकार ने एडीजी (लखनऊ जोन) आशुतोष पांडे और आईजी (झांसी) एसएस बाघेल को सुरक्षा की देखरेख के लिए नियुक्त किया है.

राज्य सशस्त्र पुलिस की एक फ्लड यूनिट सरयू नदी पर पेट्रोल करेगी

अयोध्या के एएसपी संजय कुमार ने कहा, केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 10 कंपनियां और राज्य सशस्त्र पुलिस की 68 कंपनियों के अतिरिक्त बल को कानून-व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए तैनात किया गया है. इसके साथ-साथ आसपास के जिलों से स्थानीय पुलिस बल को बुलाया गया है. सूत्रों के अनुसार राज्य सशस्त्र पुलिस की एक फ्लड यूनिट सरयू नदी पर पेट्रोल करेगी, जबकि बम निरोधक दस्ते के साथ एटीएस कमांडो किसी भी अवांछित स्थिति से निपटने के लिए तैनात रहेगी.

पार्टी के 22 सांसद, 62 विधायकों के अयोध्या पहुंचने की उम्मीद है

शिवसेना के लगभग 4 हजार कार्यकर्ताओं के अयोध्या पहुंचने की उम्मीद है, जो ठाणे से पांच ट्रेनों में अयोध्या पहुंच रहे हैं. इसके साथ ही पार्टी के 22 सांसद, 62 विधायकों के भी अयोध्या में होने वाले दो दिवसीय कार्यक्रम में पहुंचने की उम्मीद है. इस बीच आरएसएस के एक नेता ने कहा कि रविवार को 80 हजार कार्यकर्ताओं को अयोध्या लाया जाएगा, 15 हजार ट्रेन से पहुंचेंगे जबकि 14 हजार बाइक से अयोध्या आएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi