S M L

सीतामढ़ी में बनेगा भव्य सीता मंदिर, नीतीश कल करेंगे योजना का ऐलान

यह पहल बिहार सरकार और पर्यटन मंत्रालय के सहयोग से ‘रामायण सर्किट’ के तहत आगे बढ़ाई जाएगी

Updated On: Apr 23, 2018 01:06 PM IST

FP Staff

0
सीतामढ़ी में बनेगा भव्य सीता मंदिर, नीतीश कल करेंगे योजना का ऐलान

बिहार सरकार सीतामढ़ी में मौजूद ‘सीता मंदिर’ का पुनरूद्धार करने की योजना बना रही है. मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सीतामढ़ी के पुनौरा धाम जाएंगे और ‘मां जानकी मंदिर’ से जुड़ी विस्तृत योजना का ऐलान करेंगे.

सरकार मौजूदा सीता मंदिर को भव्य रूप देने की तैयारी में है. यह पहल बिहार सरकार और पर्यटन मंत्रालय के सहयोग से ‘रामायण सर्किट’ के तहत आगे बढ़ाई जाएगी. बीजेपी नेता प्रभात झा पिछले सात साल से इस काम में लगे हैं. झा ने कहा, ‘मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुनौरा धाम को धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में बनाने का आग्रह मंजूर कर लिया है.’ उन्होंने कहा, ‘मां जानकी की प्राकट्य स्थली बिहार के सीतामढ़ी जिले के पास पुनौरा धाम में है. मैंने और जगतगुरु रामभद्राचार्य ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह किया था कि वे पुनौरा धाम का जीर्णोद्धार वैशाली और नालंदा की तर्ज पर शुरू करें.’

देश में 'रामायण सर्किट' बनाने के लिए केंद्र सरकार ने मंजूरी दे दी है. जिन-जिन रास्तों से होकर भगवान राम चले थे उसे रामायण सर्किट का नाम दिया गया. इसके अलावा रामायण काल से जुड़े स्थलों को भी विकसित करने के प्रयास चल रहे हैं. बिहार के पर्यटन विभाग के एक अधिकारी की मानें तो रामायण सर्किट से जुड़ने के बाद सीतामढ़ी के उपेक्षित स्थलों का जीर्णोद्धार किया जाएगा और इन्हें विश्वस्तरीय पर्यटन स्थल का दर्जा दिया जाएगा. इन स्थलों में पुनौरा धाम, जानकी स्थान, हलेश्वर स्थान और पंथपाकर का नाम है जिन्हें रामायण सर्किट से जोड़ने की तैयारी है.

पुनौरा में मंदिर के अलावा एक पवित्र कुंड है, इसलिए लोगों की मांग है कि यहां भव्य जानकी मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए. साल 2015 में मुख्यमंत्री बनने के बाद नीतीश कुमार ने जानकी नवमी मनाने का फैसला किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi