S M L

स्पर्म डोनर का नाम पता न बताने की याचिका

सिंगल मदर ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका डाली है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा ना करे

Updated On: Feb 14, 2018 07:40 PM IST

FP Staff

0
स्पर्म डोनर का नाम पता न बताने की याचिका

मुंबई के नालासोपारा में रहने वाली एक 31 साल की महिला ने बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. उस महिला की स्पर्म डोनर से एक बेटी है. उस महिला की अर्जी है कि बच्ची का बर्थ सर्टिफिकेट में उसके पिता का नाम ना डाला जाए.

सिंगल मदर का कहना है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा नहीं करना चाहती है. उनके वकील उदय वारूनजिकर ने जस्टिस अभय ओका और जस्टिस प्रदीप देशमुख की पीठ को कहा, 'यह एक टेस्ट ट्यूब बेबी है. स्पर्म एक अनजान व्यक्ति का है.' उन्होंने कोर्ट से कहा है कि बर्थ सर्टिफिकेट में पिता के नाम की जरूरत खत्म कर देनी चाहिए.

अपनी याचिका में महिला ने कहा कि उसकी शादी नहीं हुई है. अगस्त 2016 में उस महिला ने एक बेटी को जन्म दिया था. उन्होंने कहा कि वह अपनी बेटी का ख्याल रख सकती हैं. याचिका दायर करने वाली महिला का कहना है कि पिता का नाम रिकॉर्ड में नहीं आना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi