S M L

सिख योद्धा हरि सिंह नलवा के नाम का मतलब बाघ की हत्या करने वाला नहीं

यह और अन्य रोचक जानकारियां हरि सिंह नलवा की सातवीं पीढ़ी की वंशज डॉ. वानित नलवा ने भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार में अपनी पुस्तक 'हरि सिंह नलवा: चैंपियन ऑफ खालसाजी' (1791-1837) पेश किए जाने के दौरान साझा की

Bhasha Updated On: Feb 24, 2018 07:16 PM IST

0
सिख योद्धा हरि सिंह नलवा के नाम का मतलब बाघ की हत्या करने वाला नहीं

उन्नीसवीं सदी के सिख योद्धा हरि सिंह नलवा को अपना उपनाम तब मिला था जब महाराजा रणजीत सिंह ने उनकी बहादुरी की तुलना महाभारत के राजा नल के बचपन से करते हुए कहा था, ‘वाह मेरे राजा नल, वाह’.

यह और अन्य रोचक जानकारियां हरि सिंह नलवा की सातवीं पीढ़ी की वंशज डॉ. वानित नलवा ने भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार में अपनी पुस्तक 'हरि सिंह नलवा: चैंपियन ऑफ खालसाजी' (1791-1837) पेश किए जाने के दौरान साझा की.

वानित नलवा ने कहा कि बहुत से लोग मानते हैं कि नलवा का मतलब ‘बाघ को मारने वाला’ होता है, लेकिन कुछ इतिहासकारों के अनुसार ऐसा नहीं है, बल्कि यह उपनाम महाराजा रणजीत सिंह द्वारा की गई तारीफ से आया है . महाराजा रणजीत सिंह को जब पता चला कि बालक हरिसिंह ने अकेले ही बाघ को मार डाला तो उन्होंने उनकी तारीफ की थी.

वानित ने कहा, ‘अपनी पत्नी दमयंती के प्रति प्रेम को लेकर चर्चित राजा नल ने भी बचपन में एक बाघ को मारकर अपने पिता की जान बचाई थी. राजा नल और बाघ से जुड़ी इस कहानी का जिक्र ढोला में आता है जो पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ब्रज क्षेत्र और पूर्वी राजस्थान में जाट गांवों में 19 वीं सदी के उत्तरार्ध तक व्यापक रुप से गाया और मंचित किया जाने वाला मौखिक काव्य है.’

उन्होंने कहा, ‘रणजीत सिंह ने भी यह कई बार सुनी होगी.’

उन्होंने कहा कि उन्होंने एक अमेरिकी मानवविज्ञानी से यह जानकारियां जुटाईं जिन्हें राजा नल की कहानियों का बहुत ज्ञान है.

वानित ने कहा, ‘1791 में जन्मे हरिसिंह 13 साल की उम्र में सरदार (नेता) बन गए और उन्होंने 800 लोगों की सेना की कमान संभाली.’

उन्होंने कहा, ‘1804 में जब रणजीत सिंह को पता चला कि हरिसिंह ने शिकार के दौरान बाघ को मार डाला तब उन्होंने कहा वाह मेरे राजा नल वाह. कुछ अभिलेखों में नाम नलवा लिखा है.’

उन्होंने कहा कि इतिहासकारों द्वारा इस संबंध में अध्ययन करने के प्रयास के बाद भी बाघ और राजा नल के बीच का यह संबंध हाल तक रहस्य बना हुआ था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi