S M L

मध्य प्रदेश: सिर मुंडवा कर प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों की मांगें स्वीकार

प्रदर्शन कर रहे इन शिक्षकों की कई मांगे थीं जिनमें समान कार्य के लिए समान वेतन और उचित ट्रांसफर पॉलिसी जैसी चीजें शामिल थीं

FP Staff Updated On: Jan 21, 2018 07:34 PM IST

0
मध्य प्रदेश: सिर मुंडवा कर प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों की मांगें स्वीकार

मध्य प्रदेश में कई दिनों से चल रहे शिक्षकों के विरोध प्रदर्शन के बाद अब सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षकों की मांगो को स्वीकार कर लिया है. राज्य सरकार के इस फैसले के बाद अब मध्य प्रदेश के सभी शिक्षकों को समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाएगा. बताया जा रहा है कि इसके तहत राज्य के करीब 2 लाख 84 हजार शिक्षकों को लाभ मिल सकता है.

13 जनवरी को 'अध्यापक अधिकार यात्रा' के तहत इस विरोध प्रदर्शन में 100 से ज्यादा शिक्षकों ने अपने सिर मुंडा लिए थे. शिक्षकों का सिर मुंडवाकर ऐसा प्रदर्शन करेने का शायद ये पहला मामला था. इस प्रदर्शन में शामिल होने वाली महिला शिक्षको की संख्या भी काफी थी.

protest

क्या था मामला?

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की 25 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा के बाद करीब 50 हजार से ज्यादा अतिथि शिक्षक विरोध में उतर आए थे. अतिथि शिक्षकों ने सरकार के सामने 100 फीसदी आरक्षण की मांग रखी थी.

अपने को रेगुलर करने और वेतन वृद्धि की मांग को लेकर गेस्ट टीचरों ने आंदोलन चलाया था. इसमें आंगनबाड़ी कर्मी और आशा कर्मी भी शामिल थे.

शिक्षक संघों की शिकायत थी कि समान शिक्षा नीति नहीं होने के कारण अराजकता का माहौल है. कई बार सरकार से बातचीत की कोशिश हुई है लेकिन कोई ठोस हल नहीं निकला है.

प्रदर्शन कर रहे इन शिक्षकों की कई मांगे थीं जिनमें समान कार्य के लिए समान वेतन और उचित ट्रांसफर पॉलिसी जैसी चीजें शामिल थीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi