S M L

सबरीमाला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में शिवसेना, 1 अक्टूबर को बुलाई हड़ताल

सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में शिवसेना केरल में हड़ताल करने की तैयारी में है.

Updated On: Sep 29, 2018 06:28 PM IST

FP Staff

0
सबरीमाला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में शिवसेना, 1 अक्टूबर को बुलाई हड़ताल

केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर फैसले पर देश में कहीं विरोध तो कहीं समर्थन नजर आ रहा है. केरल के सबरीमाला मंदिर में 10 साल से 50 साल की उम्र की महिलाओं के प्रवेश पर रोक को सुप्रीम कोर्ट ने गलत माना है. जिसके बाद कोर्ट ने फैसला महिलाओं के पक्ष में दिया. हालांकि शिवसेना इस फैसले के विरोध में है और अब 1 अक्टूबर को इसके खिलाफ केरल में हड़ताल करने की तैयारी में है.

सबरीमाला मंदिर को लेकर कोर्ट का मानना है कि देश में प्राइवेट मंदिर का कोई सिद्धांत नहीं है. यह सार्वजनिक संपत्ति है. इसमें यदि पुरुष को प्रवेश की इजाजत है तो फिर महिला को भी जाने की अनुमति है. कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में हर उम्र की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने का फैसला सुनाया. जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के विरोध के लिए शिवसेना ने 1 अक्टूबर को 12 घंटे की हड़ताल बुलाई है.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले के जरिए केरल के सबरीमाला स्थित अय्यप्पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश का रास्ता साफ कर दिया. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने 4:1 के बहुमत के फैसले में कहा कि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश से रोकना लैंगिक आधार पर भेदभाव है और यह परिपाटी हिंदू महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन करती है. चीफ जस्टिस ने कहा कि धर्म मूलत: जीवन शैली है जो जिंदगी को ईश्वर से मिलाती है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले मंदिर में 10 से 50 उम्र की महिलाओं का मंदिर में प्रवेश करने पर प्रतिबंध था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi