S M L

कोटखाई गैंगरेप : 'मैंने गुड़िया पर तंबाकू थूका तो उसने मुझे गाली दी थी'

हिमाचल प्रदेश के शिमला के बहुचर्चित गैंगरेप और मर्डर केस में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं.

Updated On: Apr 23, 2018 07:11 PM IST

FP Staff

0
कोटखाई गैंगरेप : 'मैंने गुड़िया पर तंबाकू थूका तो उसने मुझे गाली दी थी'

हिमाचल प्रदेश के शिमला के बहुचर्चित गैंगरेप और मर्डर केस में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. सीबीआई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि घटना के दौरान वह नशे में धुत्त था.

उसने गुड़िया पर तंबाकू थूका और इस घिनौनी हरकत पर गुड़िया ने उसे गाली दी. इसके बाद उसने उसका मुंह दबा दिया था. फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है. साथ ही आरोपी से कोटखाई के कई इलाकों में लेकर जाकर निशानदेही भी करवाई गई है.

ये हुआ सोमवार को

सुबह सवा सात बजे आरोपी को लेकर सीबीआई की टीम मौके पहुंची. इस दौरान भारी पुलिस बल मौके पर तैनात किया गया था. बता दें कि इस दौरान ग्राउंड जीरो पर न्यूज-18 की टीम भी मौजूद रही. जानकारी के अनुसार, तीन स्थानों पर निशानदेही की गई. पहली निशानदेही चरानी के डेरे, दूसरी निशानदेही जहां गुड़िया का शव मिला था, वहां की करवाई गई है.

घटनास्थल पर पुलिस ने सुरक्षा घेरा डाले रखा. 200 मीटर की दूरी तक किसी को खड़े होने की इजाजत नहीं दी गई थी. तीसरी निशानदेही घटना स्थल के नीचे मजदूर के ढारे में की गई. करीब नौ बजे तक चली निशानदेही की प्रकिया चलती है. बता दें कि सीबीआई ने कुछ स्थानीय लोगों का मामले में सहयोग करने पर आभार जताया है.

आरोपी को हेलमेट पहनाया था?

जानकारी ये भी मिली कि पुलिस द्वारा पकड़े गए एक आरोपी को भी मौके पर लाया गया था. बता दें कि इस दौरान आरोपी आगे-आगे चल रहा था और सीबीआई टीम उसके पीछे-पीछे चल रही थी. सीबीआई ने आरोपी की पहचान उजागर ना हो, इसके लिए हेलमेट भी पहना रखा था. सीबीआई द्वारा गिरफ्तार आरोपी मंडी का रहने वाला है. आरोपी का नाम नीलू है. वह चरानी है और गुड़िया प्रकरण के बाद से गायब चल रहा था.

आरोपी ने जुर्म कुबूला

केस में सीबीआई की ओर से गिरफ्तार आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है. सीबीआई सूत्रों के अनुसार, आरोपी ने इस घटना को अंजाम देने की बात पूछताछ में मानी है. मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए कोटखाई और आसपास में मौके पर भारी पुलिस तैनात की गई है और शिमला पुलिस अलर्ट पर है.

ये है मामला

गत 4 जुलाई 2017 को कोटखाई की एक छात्रा स्कूल से लौटते वक्त लापता हो गई थी. इसके बाद 6 जुलाई को कोटखाई के जंगल में बिना कपड़ों के पीड़िता की लाश मिली थी. छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी. मामले में छह आरोपी पकड़े गए थे.

इनमें राजेंद्र सिंह उर्फ राजू, हलाइला गांव, सुभाष बिस्ट (42) गढ़वाल, सूरज सिंह (29) और लोकजन उर्फ छोटू (19) नेपाल और दीपक (38) पौड़ी गढ़वाल के कोटद्वार से है. इनमें से सूरज की कोटखाई थाने में 18 जुलाई की रात को हत्या कर दी गई थी. आरोप है कि राजू की सूरज से बहस हुई और उसके बाद राजू ने उसकी हत्या कर दी. सीबीआई ने इन दोनों मामलों में केस दर्ज किया है.

(  न्यूज़ 18 के लिए रणबीर सिंह की स्टोरी  )

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi