S M L

शिया बोर्ड: अयोध्या में विवादित स्थल से दूर बने मस्जिद, नाम हो 'मस्जिद-ए-अमन'

बोर्ड के चेयरमैन ने कहा कि उन्हें ईरान और इराक के सबसे बड़े मौलानाओं ने भी शांतिपूर्ण हल निकालने की बात कही है

Updated On: Aug 22, 2017 09:45 PM IST

Bhasha

0
शिया बोर्ड: अयोध्या में विवादित स्थल से दूर बने मस्जिद, नाम हो 'मस्जिद-ए-अमन'

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन ने अयोध्या विवाद खत्म करके नई मस्जिद मुस्लिम बहुल क्षेत्र में बनाने की वकालत की है.

बोर्ड के मुताबिक बाबर के शिया कमांडर मीर बाकी ने यह मस्जिद बनवा कर विवाद का बीज बोया था. बोर्ड का यह बयान तब आया है जब कुछ दिनों पहले ही सुप्रीम कोर्ट को बोर्ड ने कहा था कि मस्जिद विवादित स्थल से कहीं दूर बनाया जा सकता है.

वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि शिया वक्फ बोर्ड ने यह भी निर्णय लिया है कि आपसी समझौते से नई मस्जिद का निर्माण विवादित स्थल से दूर किसी मुस्लिम बहुल क्षेत्र में किया जाएगा तो शिया वक्फ बोर्ड उस मस्जिद का नाम बाबर या उसके सेनापति मीर बाकी के नाम पर नहीं रखेगा. बोर्ड चाहता है कि इसका नाम विवाद के खत्म होने के साथ दफन हो जाए. नई मस्जिद का नाम ‘मस्जिद-ए-अमन’ रखा जाएगा जिससे देश में अमन का पैगाम फैले.

'कुछ लोग गलत प्रचार कर फसाद फैला रहे हैं'

उन्होंने कहा कि मौजूदा शिया समाज शर्मिंदा है. पुरातत्व विभाग द्वारा विवादित स्थल की खुदाई के दौरान मंदिर के अवशेष मिलने की बात भी कही गई है. अभी तक इस प्रकरण में दोनों संप्रदायों के बीच विवाद में कई जानें जा चुकी हैं और वह मस्जिद भी मौके पर नहीं है.

उन्होंने कहा कि उन्हें ईरान और इराक के सबसे बड़े मौलानाओं (अयातुल्ला) ने भी कहा है कि सारे मसले का हल शांतिपूर्ण ढंग से निकाला जाना चाहिए.

उन्होंने आरोप लगाया कि मगर कुछ मौलवी इस्लाम का गलत प्रचार करके हिंदुस्तान में फसाद फैला रहे हैं, जिन्हें विदेशी मुल्कों से भारत में आतंकवाद पैदा करने के लिए पैसा मिल रहा है.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi