Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

शंकर सिंह वाघेला से भरत सिंह सोलंकी ने की मुलाकात, कहा सब ठीकठाक है

दोनों नेताओं ने मुलाकात के बाद दावा किया कि उनके बीच कोई मतभेद नहीं हैं

Bhasha Updated On: Jun 07, 2017 09:00 PM IST

0
शंकर सिंह वाघेला से भरत सिंह सोलंकी ने की मुलाकात, कहा सब ठीकठाक है

कांग्रेस की गुजरात इकाई के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने बुधवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता शंकर सिंह वाघेला से उनके आवास पर मुलाकात की और दावा किया कि उनके बीच कोई मतभेद नहीं हैं.

दिल्ली में कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात के बाद यहां लौटे सोलंकी ने मंगलवार को ऐलान किया कि इस साल के अंत में गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के सभी 57 विधायकों को टिकट दिए जाएंगे.

वाघेला ने हाल में सोशल मीडिया वेबसाइट ट्विटर पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं को ‘अनफॉलो’ कर दिया था, जिससे अटकलें लगाई जाने लगी थीं कि वह कांग्रेस छोड़कर अपनी पुरानी पार्टी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं.

वाघेला ने सहकर्मियों को पार्टी के मुद्दों के बारे में बताया

बहरहाल, पूर्व मुख्यमंत्री वाघेला ने बाद में ऐसी अफवाहों को खारिज किया था . उन्होंने दावा किया था कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को उन्होंने ट्विटर पर ‘अनफॉलो’ इसलिए किया ताकि उनके बारे में ‘गलत संदेश और अटकलबाजियां नहीं फैलें.’

गांधीनगर में बुधवार को वाघेला से मुलाकात के बाद सोलंकी ने कहा कि उन्होंने अपने सहकर्मी को उन मुद्दों के बारे में बताया जिनके बारे में दिल्ली में पार्टी आलाकमान के साथ चर्चा हुई.

मौजूदा विधायकों को फिर से टिकट देने की अचानक की गई घोषणा पर वाघेला की कथित नाराजगी के बारे में पूछे जाने पर सोलंकी ने कहा कि वाघेला की तरफ से उन्हें ऐसा कुछ नहीं लगा.

प्रदेश अध्यक्ष ने पत्रकारों को बताया, ‘आज हमारी मुलाकात के दौरान मैंने कोई नाराजगी नहीं देखी. चाय पर हमारी अच्छी बातचीत हुई. हमारे बीच निश्चित तौर पर कोई दिक्कत नहीं है.’

कांग्रेस पिछले 22 साल से गुजरात की सत्ता से बाहर है

सोलंकी ने कहा, ‘‘वाघेला गुजरात विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं, जबकि मैं पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष हूं. इसलिए हम पार्टी को मजबूत करने और अगले चुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहे हैं.’

पिछले महीने वाघेला ने भी कहा था कि सोलंकी से उनके कोई मतभेद नहीं हैं . उन्होंने कहा था, ‘सोलंकी से मुझे कभी कोई दिक्कत नहीं रही. हम सब एक टीम का हिस्सा हैं. सोलंकी से मेरे कोई मतभेद नहीं हैं.’ कांग्रेस पिछले 22 साल से गुजरात की सत्ता से बाहर है.

गुजरात विधानसभा में अभी कुल 182 सीटें हैं, जिनमें 122 सीटें बीजेपी के पास हैं. सोलंकी ने भरोसा जताया कि कांग्रेस इस बार 123 से ज्यादा सीटें जीतेगी और दो-तिहाई बहुमत हासिल करेगी.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
जो बोलता हूं वो करता हूं- नितिन गडकरी से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi