S M L

'मिस्टर भागवत आपने शहीदों का अपमान किया है, माफी मांगें'

राहुल ने अपने ट्वीट में कहा है कि आरएसएस चीफ का भाषण हर एक भारतीय का अपमान है, क्योंकि इसमें उन लोगों का अपमान किया गया है, जिन्होंने देश के लिए अपनी जान दी है

Updated On: Feb 12, 2018 05:50 PM IST

FP Staff

0
'मिस्टर भागवत आपने शहीदों का अपमान किया है, माफी मांगें'

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को कहा था कि देश के लिए जंग लड़ने की जरूरत पड़ी तो आरएसएस तीन दिन में 'सेना' खड़ी कर सकती है. वहीं उनके इस बयान को लेकर अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनपर निशाना साधा है.

राहुल ने ट्वीट कर आरएसएस प्रमुख से माफी मांगने को कहा है. राहुल ने अपने ट्वीट में कहा है कि आरएसएस चीफ का भाषण हर एक भारतीय का अपमान है, क्योंकि इसमें उन लोगों का अपमान किया गया है, जिन्होंने देश के लिए अपनी जान दी है. ये हमारे तिरंगे का भी अपमान है, हर उस जवान का अपमान हुआ है, जिसने तिरंगे को कभी सलाम किया है. हमारे शहीदों और सेना का अपमान करने के लिए आपको शर्म आनी चाहिए मिस्टर भागवत.

इससे पहले छह दिवसीय मुजफ्फरपुर यात्रा के अंतिम दिन जिला स्कूल मैदान में आरएसएस के स्वयं सेवकों को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा था कि सेना को सैन्यकर्मियों को तैयार करने में छह से सात महीने लग जाएंगे. लेकिन संघ के स्वयं सेवकों को लेकर यह तीन दिन में तैयार हो जाएगी. यह हमारी क्षमता है पर हम सैन्य संगठन नहीं, पारिवारिक संगठन हैं. लेकिन संघ में मिलिट्री जैसा अनुशासन है. अगर कभी देश को जरूरत हो और संविधान इजाजत दे तो स्वयं सेवक मोर्चा संभाल लेंगे.

उन्होंने कहा था कि आरएसएस के स्वयं सेवक मातृभूमि की रक्षा के लिए हंसते-हंसते बलिदान देने को तैयार रहते हैं. देश की विपदा में स्वयंसेवक हर वक्त मौजूद रहते हैं. उन्होंने भारत-चीन के युद्ध की चर्चा करते हुए कहा कि जब चीन ने हमला किया था तो उस समय संघ के स्वयंसेवक सीमा पर मिलिट्री फोर्स के आने तक डटे रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi