S M L

कसौली हत्याकांड: आरोपी की मां ने कहा-बहुत गुस्सैल है मेरा बेटा

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के कसौली में हुए टीसीपी महिला अफसर हत्याकांड के आरोपी होटल मालिक का स्वभाव काफी गुस्सैल था.

FP Staff Updated On: May 03, 2018 03:18 PM IST

0
कसौली हत्याकांड: आरोपी की मां ने कहा-बहुत गुस्सैल है मेरा बेटा

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के कसौली में हुए टीसीपी महिला अफसर हत्याकांड के आरोपी होटल मालिक का स्वभाव काफी गुस्सैल था. अवैध निर्माण को लेकर कोर्ट में चल रहे मामले से वह बीते एक साल से परेशान था. ऐसा कहना है कि आरोपी होटल मालिक विजय कुमार की मां का. मालूम हो, अवैध निर्माण को तोड़ने के दौरान विजय की मां भी मौके पर ही मौजूद थीं.

न्यूज18 से बातचीत में आरोपी विजय की मां ने कहा, 'मेरा बेटा काफी गुस्सैल है. करीब एक साल से तनाव में था.' आरोपी की मां ने कहा कि जब प्रशासन की टीम निर्माण तोड़ने आई थी तो वह अधिकारियों से मिन्नतें करता रहा. पैर भी पकड़े, लेकिन अधिकारी नहीं मानें.

हालांकि, उन्होंने विजय के पास पिस्टल होने की जानकारी से इंकार किया है. उन्होंने कहा कि उन्हें विजय के पास पिस्टल होने की जानकारी नहीं थी. आरोपी विजय के तीन बच्चे हैं. इनमें दो बेटियां और एक बेटा है. बड़ी बेटी की उम्र करीब 15 साल, छोटी बेटी पांच साल और बेटा 10 साल का है.

दो दिन बाद भी आरोपी का सुराग नहीं

कसौली गोलीकांड में पुलिस अब भी खाली हाथ है. आरोपी के बारे में कोई भी सुराग नहीं लगा पाई. घटना के दो दिन बाद भी आरोपी का पता लगाने में पुलिस नाकाम है. पुलिस ने आरोपी के बारे में पुख्ता सुराग देने वाले को एक लाख रुपए का इनाम भी घोषित किया है, लेकिन अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है.

बिजली विभाग ने आरोपी को सस्पेंड किया

कसौली हत्याकांड का आरोपी बिजली विभाग में कार्यरत है. फिलहाल, विभाग ने आरोपी को सस्पेंड कर दिया है. जानकारी के अनुसार, आरोपी पीएस टू डायरेक्टर सिविल के पद पर तैनात था. राज्य बिजली बोर्ड के एमडी जेपी काल्टा ने आरोपी को सस्पेंड करने की पुष्टि है.

क्या है पूरा मामला

एनजीटी और सुप्रीम कोर्ट ने कसौली के 13 होटलों के अवैध निर्माण गिराने के आदेश दिए थे. दो मई डेडलाइन थी, जिसके मद्देनजर मंगलवार सुबह 38 सदस्यीय चार टीमें अवैध निर्माण गिराने कसौली पहुंची थी. कुछ होटलों पर कार्रवाई करने के बाद अस्सिटेंट टाउन कंट्री प्लानिंग शैलबाला के नेतृत्व में प्रशासन की टीम दोपहर ढाई बजे मंढोधार में नारायणी गेस्ट हाउस पहुंची.

इस दौरान होटल संचालक विजय ठाकुर ने हंगामा शुरू कर दिया. महिला अधिकारी से बहस करने के बाद विजय ने आपा खोया और लाइसेंसी रिवॉल्वर से तीन गोलियां दाग दीं. एक गोली महिला अधिकारी के सिर पर लगी और दूसरी छाती पर और वह मौके पर ही ढेर हो गई. इसके अलावा, घटना में पीडब्ल्यूडी विभाग के एक कर्मी भी घायल हो गया. जिसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है.

( न्यूज़ 18 के लिए रणबीर सिंह की रिपोर्ट )

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi