S M L

बेंगलुरु: वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या

गौरी लंकेश को कर्नाटक में सांप्रदायिकता के खिलाफ आवाज उठाने के लिए जाना जाता है

Updated On: Sep 05, 2017 10:42 PM IST

FP Staff

0
बेंगलुरु: वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश को बेंगलुरु स्थित उनके घर पर गोली मारकर हत्या कर दी गई. लंकेश बेंगलुरु के राजराजेश्वरी नगर में रहती थीं. उनके पिता पत्रकार और लेखक पी लंकेश हैं.

गौरी लंकेश को तीन गोलियां लगी हैं. अभी वह मानहानि के एक मामले में जमानत पर बाहर थीं.

पुलिस के सूत्रों ने बताया कि मंगलवार 5 सितंबर को रात 8 बजे उन्हें घर के बाहर गोली लगी और वो वहीं गिर पड़ीं. कर्नाटक में सांप्रदायिकता के खिलाफ अपने सख्त रुख के लिए लंकेश को जाना जाता था. 2015 में धारवाड़ के अपने घर में प्रोग्रेसिव थिंकर और रिसर्चर एम एम कलबुर्गी की हत्या कर दी गई थी.

कौन थीं गौरी लंकेश?

गौरी लंकेश 'लंकेश पत्रिके' की संपादक थीं. यह एक साप्ताहिक टैबलॉयड मैगजीन है. लंकेश को हिंदूत्व ब्रिगेड के आलोचक के तौर पर भी जाना जाता था. पिछले साल ही उनपर सांसद प्रह्लाद जोशी की मानहानि का मुकदमा किया गया था. लंकेश ने बीजेपी नेताओं के खिलाफ एक रिपोर्ट लिखी थी. कर्नाटक में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi