S M L

केंद्र सरकार ने कांग्रेस के 15 वीआईपी नेताओं की सुरक्षा घटाई

खुफिया एजेंसियों ने 42 वीआईपी की सुरक्षा की समीक्षा की थी

FP Staff Updated On: Jun 23, 2017 05:56 PM IST

0
केंद्र सरकार ने कांग्रेस के 15 वीआईपी नेताओं की सुरक्षा घटाई

एक नई जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार ने 15 कांग्रेस नेताओं की सुरक्षा घटा दी है. सुरक्षा से संबंधित सामने आई इस जानकारी के मुताबिक कुल 42 लोगों की सुरक्षा घटाई गई है, जिसमें 27 सरकार द्वारा बड़े पदों पर नियुक्त अधिकारी भी शामिल हैं.

कांग्रेस के जिन नेताओं की सुरक्षा घटाई गई है उनमें पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी, कांग्रेस महासचिव अजय माकन, गुजरात के कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया, लोकसभा सांसद शशि थरूर, पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री प्रकाश जायसवाल. इन सभी कांग्रेस नेताओं की वाई-प्लस सिक्योरिटी हासिल थी, जिसे अब घटा दी गई है.

सूत्रों के मुताबिक समीक्षा के बाद ए के एंटनी, अजय माकन, शकील अहमद, शशि थरूर और पूर्व सांसद विजय इंदर सिंगला की सुरक्षा घटा कर वाई-कैटेगरी में कर दी गई है.

Ajay Maken

वहीं दूसरी तरफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) के उपाध्यक्ष मौलाना सईद कल्बे सादिक को आर एंड ए डब्ल्यू सिक्योरिटी के अंदर रखा गया है, क्योंकि उन्होंने सुरक्षा लेने से इनकार कर दिया था.

कुछ केंद्रीय अधिकारियों, सेलिब्रिटीज और खिलाड़ियों जैसे वीआईपी और वीवीआईपी को सुरक्षा देने की जिम्मेदारी स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी), राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी), इंडो तिब्बतयन बॉर्डर पुलिस और सीआरपीएफ जैसी एजेंसियों की होती है.

वीआईपी की सुरक्षा हटाने का फैसला किसने किया?

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक सूत्रों ने बताया है कि इन 42 वीआईपी की सुरक्षा की समीक्षा खुफिया एजेंसियों ने की थी. जिसके बाद ये फैसला लिया गया. वीआईपी की सुरक्षा की समीक्षा खुफिया और सुरक्षा एजेंसियां हर थोड़े अंतराल पर करती रहती हैं. ये एक रुटीन प्रक्रिया है.

राज्यसभा सांसद राजीव शुक्ला की वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा को घटाकर एक्स श्रेणी में कर दिया गया है. वहीं मोढवाडिया के सुरक्षा घेरे को हटा लिया गया है.

8 वीआईपी की एक्स कैटेगरी की सिक्योरिटी वापस ले ली गई है जिसमें गिरिजा व्यास, प्रिय रंजन दास मुंशी और आर पी एन सिंह शामिल हैं

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi