S M L

रेलवे की समय सारिणी के हिसाब से चलता है ये स्कूल

बाढ़ प्रभावित इस स्कूल तक शिक्षकों के पहुंचने का जरिया ट्रेन है

Updated On: May 31, 2017 09:27 PM IST

FP Staff

0
रेलवे की समय सारिणी के हिसाब से चलता है ये स्कूल

बिहार के सीतामढ़ी में एक ऐसा स्कूल है जो रेलवे समय-सारणी के मुताबिक खुलता और बंद होता है. इस सरकारी स्कूल का रेलवे विभाग से कोई लेना-देना नहीं है. इसके बावजूद यह स्कूल रेलवे समय-सारणी का खयाल रखता है.

शिक्षकों के आने का एकमात्र जरिया ट्रेन

इसका कारण यह है कि बाढ़ प्रभावित इस स्कूल तक शिक्षकों के पहुंचने का जरिया ट्रेन है. ये शिक्षक ट्रेन से ही वापस भी जाते हैं. इसके चलते वो रेल समय-सारणी का पूरा खयाल रखते हैं.

train, school children

हालांकि शिक्षक ऐसा रोज नहीं करते हैं बल्कि वे सप्ताह में कभी-कभार ही आते हैं. इस कारण ग्रामीण इस स्कूल से बेहद नाराज रहते हैं क्योंकि यह स्कूल अक्सर बंद रहता है.

यहां नियुक्त चार सरकारी शिक्षक सिर्फ स्कूल में अपनी हाजिरी बनाने आते है. हाजिरी बनाने के बाद यहां पढ़ाई नहीं होती और स्कूल में ताला लगाकर सभी शिक्षक यहां से चले जाते है.

बार-बार शिकायत के बाद भी नहीं हुआ कोई उपाय

गांव के निवासी उपेंद्र साह ने कहा, 'कई बार अधिकारियों से इस मामले को लेकर शिकायत की गई है लेकिन इसका कभी कोई फायदा नहीं हुआ. इस स्कूल में जितने भी बच्चे पढ़ने आते है वो सभी गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं. हमारा इतना सामर्थ्य नहीं कि हम अपने बच्चों को निजी विद्यालय में भेज सकें.'

साभार न्यूज़18

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi