S M L

शीर्ष अदालत के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एम बी लोकूर सेवानिवृत्त

उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति मदन बी लोकूर रविवार को सेवानिवृत्त हो गए.

Updated On: Dec 30, 2018 10:55 PM IST

Bhasha

0
शीर्ष अदालत के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एम बी लोकूर सेवानिवृत्त

उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति मदन बी लोकूर रविवार को सेवानिवृत्त हो गए. वह इस साल 12 जनवरी को तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ चार न्यायाधीशों द्वारा आयोजित विवादित संवाददाता सम्मेलन में शामिल थे. न्यायमूर्ति लोकूर को उनके अंतिम कामकाजी दिन 14 दिसंबर को शीर्ष अदालत के वकीलों द्वारा विदाई दी गई थी.

न्यायमूर्ति लोकूर सेवानिवृत्ति से पूर्व दूसरे सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश थे. उन्होंने न्यायमूर्ति जे चेलामेश्वर (अब सेवानिवृत्त) के नेतृत्व में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में भाग लिया था. प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति कुरियन जोसफ (अब सेवानिवृत्त) ने भी इसमें मौजदू थे और तत्कालीन सीजेआई मिश्रा के खिलाफ संवेदनशील मामलों के आवंटन के मुद्दे पर आरोप लगाए थे.

विदाई समारोह में मौजूद रहे न्यायमूर्ति गोगोई और अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल सहित कई वक्ताओं ने न्यायमूर्ति लोकूर की प्रशंसा की थी. न्यायमूर्ति लोकूर ने संविधान विधि, किशोर न्याय और वैकल्पिक विवाद निपटारा तंत्र सहित कानून के विभिन्न पहलुओं से जुड़े मामलों में फैसले सुनाए हैं. उन्होंने अदालतों के कम्प्यूटरीकरण, न्यायिक शिक्षा, कानूनी परामर्श और कानूनी सेवाओं सहित न्यायिक सुधार में सक्रिय भूमिका भी निभाई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi