S M L

टुकड़ों में मिला पत्रकार जमाल खशोगी का शव: रिपोर्ट

खशोगी आखिरी बार दो अक्‍टूबर को अपनी शादी से जुड़े दस्‍तावेज लेने के लिए सऊदी दूतावास के अंदर घुसते दिखाई दिए थे

Updated On: Oct 23, 2018 09:36 PM IST

FP Staff

0
टुकड़ों में मिला पत्रकार जमाल खशोगी का शव: रिपोर्ट
Loading...

सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी के शरीर के टुकड़े मिले हैं. स्‍काई न्‍यूज की खबर के मुताबिक ये टुकड़े तुर्की में सऊदी अरब के महावाणिज्‍यदूत के घर के बगीचे से मिले हैं. यह जगह दूतावास से 500 मीटर की दूरी पर है. खबर में बताया गया है कि खशोगी के शरीर के टुकड़े किए गए और चेहरे के साथ भी बर्बरता की गई. खशोगी आखिरी बार दो अक्‍टूबर को अपनी शादी से जुड़े दस्‍तावेज लेने के लिए सऊदी दूतावास के अंदर घुसते दिखाई दिए थे.

इधर, तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा कि सऊदी अरब के अधिकारियों ने कई दिन की योजना के बाद इस्तांबुल वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की. हालांकि सऊदी अरब ने इसके उलट यह सफाई दी थी कि पत्रकार की मृत्यु दुर्घटनावश हो गई.

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने मांग की कि सऊदी अरब को इसमें शामिल सभी लोगों की पहचान बतानी चाहिए, चाहे वे किसी भी पद पर हों. एर्दोआन ने कहा कि वह चाहते हैं कि सऊदी अरब खशोगी की हत्या के मामले में हिरासत में लिए गए 18 संदिग्धों पर तुर्की की अदालतों में मुकदमा चलने की इजाजत दे. इससे तुर्की और सऊदी अरब की सरकार के बीच तनाव गहराता दिख रहा है. सऊदी सरकार ने कहा कि वह अपनी खुद की जांच कर रही है और इसमें शामिल लोगों को दंडित करेगी.

मुट्ठीभर सुरक्षाकर्मियों को सजा देने से काम नहीं चलेगा: एर्दोआन

एर्दोआन ने संसद में सत्तारूढ़ पार्टी के सांसदों को दिए भाषण में कहा, ‘इस तरह की घटना के लिए मुट्ठीभर सुरक्षाकर्मियों और खुफिया अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराने से हमें या अंतरराष्ट्रीय समुदाय को तसल्ली नहीं मिलेगी. सऊदी अरब ने हत्या की बात कबूल करके एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है. फिलहाल हम उम्मीद करते हैं कि वे जिम्मेदार लोगों को खुलकर सामने लाएं, चाहे कोई ऊंचे से ऊंचे पद पर हो या निचले पद पर. उन्हें न्याय के कठघरे में लाया जाए.’

पहले उम्मीद जताई जा रही थी कि एर्दोआन के भाषण में खशोगी की हत्या के बारे में सच का खुलासा किया जाएगा. लेकिन इसमें महज जानकारी का एकमात्र सूत्र बताया गया है जो पहले ही अधिकारियों ने दे दी है और तुर्की के मीडिया में प्रसारित हो चुकी है. हालांकि तुर्की के राष्ट्रपति ने सऊदी अरब पर इस बात के लिए दबाव बनाये रखा कि संदिग्धों पर तुर्की में मुकदमा चले और साजिशकर्ताओं को दंडित किया जाए.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi