S M L

शिलॉन्ग पहुंची CBI की टीम, कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से आज करेगी पूछताछ

सीबीआई राजीव कुमार से शारदा चिटफंड घोटाले में सबूतों को नष्ट करने में उनकी भूमिका को लेकर सवाल-जवाब कर सकती है

Updated On: Feb 09, 2019 10:54 AM IST

FP Staff

0
शिलॉन्ग पहुंची CBI की टीम, कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से आज करेगी पूछताछ

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) आज यानी शनिवार को कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करेगी. सीबीआई उनसे शारदा चिटफंड घोटाले में सबूतों को नष्ट करने में उनकी भूमिका को लेकर सवाल-जवाब करेगी.

इसके लिए राजीव कुमार शुक्रवार को शिलॉन्ग पहुंचे हैं. उनसे साथ तीन अन्य आईपीएस अधिकारी भी यहां आए हैं. सूत्रों के अनुसार राजीव कुमार से यह पूछताछ किसी अज्ञात स्थान पर की जाएगी.

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने बीते मंगलवार को राजीव कुमार को सीबीआई के सामने पेश होने का निर्देश दिया था. कोर्ट ने अपने निर्देश में कहा था कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर, ‘शारदा चिटफंड घोटाले’ से जुड़े मामलों की जांच में सीबीआई के साथ 'विश्वसनीय रूप से' सहयोग करें. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया है उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाएगा.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक सीबीआई के संभावित सवालों को लेकर राजीव कुमार पूरी तैयारी के साथ यहां पहुंचे हैं. रिपोर्ट में बताया गया था कि कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने स्टेट क्रिमिनल इन्वेस्टीगेशन डिपार्टमेंट के साथ मिलकर 80-100 ऐसे सवालों की एक लिस्ट तैयार की थी जो सीबीआई के अधिकारी राजीव कुमार से पूछ सकते हैं

राजीव कुमार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के काफी करीबी हैं

कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के काफी करीबी हैं

राजीव कुमार पर क्या हैं आरोप?

सीबीआई ने राजीव कुमार पर ‘शारदा चिटफंड घोटाले’ के सबूत मिटाने का आरोप लगाया है. सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई ने आरोप लगाया कि घोटाले की एसआईटी जांच के अगुवा रहे राजीव कुमार ने इलेक्ट्रॉनिक सबूत के साथ छेड़छाड़ की. केंद्रीय एजेंसी का आरोप है कि उन्होंने जो दस्तावेज एजेंसी को सौंपे उनमें कुछ ‘छेड़छाड़’ की गई है.

कौन हैं राजीव कुमार?

राजीव कुमार 1989 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं. वर्तमान में वो कोलकाता के पुलिस कमिश्नर हैं. साथ ही उन्हें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का करीबी माना जाता है. मूल रूप से वो उत्तर प्रदेश के चंदौसी के रहने वाले हैं. उनके पिता आनंद कुमार चंदौसी के एसएम कॉलेज में प्रोफेसर थे. राजीव कुमार ने इसी कॉलेज से उच्च शिक्षा हासिल की.

वो यूपी कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं लेकिन फिलहाल कई वर्षों से पश्चिम बंगाल में तैनात हैं. उनकी पत्नी आईआरएस अफसर हैं. उन्होंने खुद को पीएचडी में नामांकित कर रखा है. वो कॉलम भी लिखते रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi