S M L

बिहार में एक और RTI कार्यकर्ता की हत्या, 3 महीने में तीसरी घटना

आरटीआई कार्यकर्ता बाल्मिकि यादव अपने साथी कारू यादव के साथ बाइक से सिकंदरा बाजार से बिछवे गांव की ओर रवाना हुए थे. गांव के पास ही रास्ते में घात लगाए कुछ बाइक सवार अपराधियों ने दोनों पर गोलियां झोंक दीं

FP Staff Updated On: Jul 02, 2018 12:40 PM IST

0
बिहार में एक और RTI कार्यकर्ता की हत्या, 3 महीने में तीसरी घटना

बिहार के जमुई में रविवार देर शाम मोटरसाइकिल सवार अपराधियों ने आरटीआई कार्यकर्ता समेत दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी. इस घटना के बाद  इलाके में तनाव का माहौल है.

रविवार शाम आरटीआई कार्यकर्ता बाल्मिकि यादव अपने साथी कारू यादव के साथ बाइक से सिकंदरा बाजार से बिछवे गांव की ओर रवाना हुए थे. गांव के पास ही रास्ते में घात लगाए कुछ बाइक सवार अपराधियों ने दोनों पर गोलियां झोंक दीं. आरटीआई कार्यकर्ता बाल्मिकि यादव ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि कारू यादव की अस्पताल के रास्ते में मौत हो गई.

हालांकि हत्या का कारण आपसी विवाद माना जा रहा है. इस सिलसिले में संबंधित थाना में केस दर्ज कर पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

तीन महीने में तीन कार्यकर्ताओं की हत्या

रविवार की हालिया घटना के बाद पिछले तीन महीने में किसी आरटीआई कार्यकर्ता की यह तीसरी हत्या है. पिछले महीने 19 जून को मोतिहारी में आरटीआई कार्यकर्ता राजेंद्र सिंह को गोली मारी गई थी. अस्पताल ले जाते वक्त उनकी मौत हो गई थी. पुलिस छानबीन में पता चला कि आरटीआई कार्यकर्ता होने के नाते राजेंद्र सिंह ने सूचना के अधिकार के तहत कई घोटालों का पर्दाफाश किया था.

इससे पहले अप्रैल महीने में वैशाली जिले के गोरौल थाना क्षेत्र में एक घटना हुई जिसमें आरटीआई कार्यकर्ता जयंत कुमार को मार दी गई. जयंत कुमार की मौके पर ही मौत हो गई थी. जयंत कुमार ने गोरौल के पूर्व थानाध्यक्ष, पुलिसकर्मियों समेत कई नेताओं के खिलाफ आरटीआई के तहत सबूत जुटाए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi