S M L

'राजनीतिक लाभ के लिए मुस्लिम लीग ने किया घर देने का झूठा वादा'

केरल की राज्यस्तरीय पार्टी इंडियन मुस्लिम लीग ने रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला को घर के लिए 20 लाख देने का वादा किया था

Updated On: Jun 18, 2018 09:50 PM IST

FP Staff

0
'राजनीतिक लाभ के लिए मुस्लिम लीग ने किया घर देने का झूठा वादा'
Loading...

अक्सर यह देखा जाता है कि किसी भी घटना के वक्त मामला गरम रहने पर राजनीतिक दल लाभ लेने के चक्कर में कोई बड़ा वादा कर जाते हैं. बाद में इन वादों का क्या होता है किसी को मालूम नहीं होता है. कई मामलों में राजनीतिक पार्टियां किसी भी घटना में पीड़ित के सहारे लाभ तो ले लेती हैं लेकिन बाद में वे अपने ही वादों को भूल जाती हैं. कुछ ऐसा ही हुआ रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला के साथ.

हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दलित छात्र रोहित वेमुला ने जनवरी, 2016 में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. इसके बाद इस मामले को लेकर राजनीति गरमा गई थी. कई राजनीतिक दल रोहित वेमुला के परिवारवालों को सहानुभूति देने के लिए आए थे और बहुत सारे वादे किए थे. केरल की राज्यस्तरीय पार्टी इंडियन मुस्लिम लीग ने रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला को घर के लिए 20 लाख देने का वादा किया था. लेकिन रोहित वेमुला के परिवारवालों का कहना है कि इस दिशा में कोई प्रगति नहीं हुई है और राजनीतिक लाभ के लिए उनका उपयोग किया गया.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार राधिका वेमुला ने कहा कि 'जब रोहित की मौक हुई, उस वक्त मैं अपने वेलीवाड़ा में सिर्फ रो रही थी और मुझे इसका कुछ पता नहीं चल रहा था कि कौन मुझसे मिलने आ रहा था और सहानुभूति जता रहा था. इस वक्त इस पार्टी के सदस्य केरल से आए और उन्होंने मुझसे कहा कि उन्होंने सुना और देखा कि हम बहुत ही गरीब हैं.'

राधिका वेमुला ने कहा कि वे मुझे केरल ले गए, जहां एक बड़ी सभा में मुझे शामिल किया गया, इस सभा में पार्टी ने यह वादा किया की वे हमें घर बनाने के लिए 20 लाख रुपए देंगे. खबरों के अनुसार आईयूएमएल ने विजयवाड़ा और गुंटूर के बीच कोप्पूवुरु में घर बनाने के लिए जगह भी देखी थी.

आईयूएमएल के ऊपर अपना राजनीतिक इस्तेमाल किए जाने का आरोप लगाते हुए राधिका वेमुला ने कहा कि पार्टी ने दो चेक दिए, जिसमें से एक चेक बाउंस हो गया, इसके वजह से उन्हें बैंक के कई चक्कर लगाने पड़े. उन्होंने कहा कि 'उन्होंने हमारे लिए काफी परेशानी खड़ी. वे मुझे इस तरह इंस्टालमेंट और कूरियर से चेक देने की वजह, सीधे बुलाकर चेक दे सकते थे. अगर वो चेक नहीं देना चाहते हैं तो वे खुले रूप में कह सकते हैं ना कि इस तरह परेशान करें.'

आईयूएमएल ने कहा कि तकनीकी खामियों की वजह से चेक बाउंस हो गया.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi