S M L

रोहिंग्या मुसलमानों पर सरकार सुप्रीम कोर्ट में करेगी अपने रुख का खुलासा

सरकार द्वारा रोहिंग्या समुदाय के लोगों को वापस म्यांमार भेजने के फैसले के खिलाफ याचिका को सुनने के लिए स्वीकार करते हुए अदालत ने सरकार से जवाब मांगा है

Updated On: Sep 15, 2017 04:49 PM IST

Bhasha

0
रोहिंग्या मुसलमानों पर सरकार सुप्रीम कोर्ट में करेगी अपने रुख का खुलासा

केंद्र सरकार सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस म्यांमार भेजने की योजना का खुलासा करेगी.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक समारोह में शिरकत के बाद यह जानकारी दी. सिंह ने कहा कि ‘सरकार 18 सितंबर को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा पेश करेगी.’ अवैध रूप से भारत में रह रहे म्यांमार के रोहिंग्या समुदाय के लोगों के भविष्य को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से अपनी रणनीति बताने को कहा था. सरकार द्वारा रोहिंग्या समुदाय के लोगों को वापस म्यांमार भेजने के फैसले के खिलाफ याचिका को सुनने के लिए स्वीकार करते हुए अदालत ने सरकार से जवाब मांगा है.

दो रोहिंग्या शरणार्थियों मोहम्मद सलीमुल्लाह और मोहम्मद शाकिर द्वारा पेश याचिका में रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस म्यांमार भेजने की सरकार की योजना को अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार नियमों का उल्लंघन बताया गया है. दोनों याचिकाकर्ता भारत में संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायोग में पंजीकृत हैं. उनकी दलील है कि म्यांमार में रोहिंग्या समुदाय के खिलाफ व्यापक हिंसा के कारण उन्हें भारत में शरण लेनी पड़ी है.

गृह मंत्रालय द्वारा गत जुलाई में रोहिंग्या समुदाय के अवैध अप्रवासियों को भारत से वापस भेजने के लिये राज्य सरकारों को इनकी पहचान करने के निर्देश के बाद यह मुद्दा चर्चा का विषय बना था. सरकार द्वारा अपने रुख पर कायम रहने की प्रतिबद्धता जताए जाने के बाद अदालत में यह याचिका दायर की गई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi