S M L

एम्स से डिस्चार्ज हुए लालू: अस्पताल के फैसले से खुश नहीं लालू

लालू ने एम्स को लिखी चिट्ठी में कहा, मैं फिर से रांची के अस्पताल में नहीं जाना चाहता. वहां जरूरी उपकरण नहीं हैं जिनसे मेरा उचित इलाज हो सके

Updated On: Apr 30, 2018 03:11 PM IST

FP Staff

0
एम्स से डिस्चार्ज हुए लालू: अस्पताल के फैसले से खुश नहीं लालू
Loading...

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने एम्स प्रशासन को चिट्ठी लिखकर उनका इलाज एम्स में ही कराए जाने की मांग की है. उन्होंने अपने पत्र में रांची के अस्पताल में उचित इलाज न मिलने का हवाला दिया है.

लालू ने एम्स को लिखी चिट्ठी में कहा, मैं फिर से रांची के अस्पताल में नहीं जाना चाहता. वहां जरूरी उपकरण नहीं हैं जिनसे मेरा उचित इलाज हो सके.

एम्स से उन्हें छुट्टी देने की प्रक्रिया जारी है. इसे देखते हुए आरजेडी प्रमुख ने यह चिट्ठी अस्पताल प्रशासन को भेजी है. उन्होंने अपनी चिट्ठी में कहा है, मेरा इलाज एम्स में ही जारी रखा जाए. रांची स्थित राजेंद्र मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (rims) में इलाज के बेहतर इंतजाम नहीं हैं. मैं नहीं चाहता की मुझे रांची के अस्पताल में दोबारा शिफ्ट किया जाए. लालू ने आगे लिखा है, स्वस्थ होने तक मेरा एम्स में इलाज हो, अभी मेरा स्वास्थ्य बेहतर नहीं है. मैं चक्कर आने से बाथरूम में गिर चुका हूं.

lalu letter to aims

लालू ने पत्र में यह भी लिखा है कि उन्हें ह्रदयरोग, किडनी इनफेक्शन, सुगर और कई अन्य बीमारियां हैं. उन्होंने कमर में दर्द और बार-बार चक्कर आने की शिकायत भी की है. इन सभी बीमारियों का इलाज एम्स में चलने की बात उन्होंने चिट्ठी में लिखी है.

लालू ने यह भी लिखा कि डॉक्टर भगवान का रूप होता है इसलिए उसे किसी सियासी दबाव में नहीं आना चाहिए. उन्होंने आग्रह किया है कि एम्स में रखकर ही उनका बेहतर इलाज किया जा सकता है. चिट्ठी वाली खबर फ्लैश होने के बाद लालू यादव के बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का भी बयान सामने आया है.

तेजस्वी ने कहा, लालूजी को एम्स से रांची शिफ्ट करने का फैसला जल्दी में उठाया गया है. एम्स काफी अच्छा अस्पताल है, मुझे ताज्जुब है कि ऐसा फैसला क्यों लिया गया. उन्हें शिफ्ट करने के पीछे कारण क्या है, इस बारे में दिल्ली एम्स ही बता पाएगा.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi