S M L

गणतंत्र दिवस समारोहः राजपथ पर दिखी देश की सैन्य शक्ति और संस्कृति की झलक

इस बार का गणतंत्र दिवस समारोह बेहद खास है क्योंकि यह पहला मौका है जब 10 देशों के प्रतिनिधि इस कार्यक्रम का हिस्सा बन रहे हैं

| January 26, 2018, 01:05 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Jan 26, 2018

गणतंत्र दिवस समारोहः राजपथ पर दिखी देश की सैन्य शक्ति और संस्कृति की झलक

भारत शुक्रवार को अपना 69वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. कई दिनों से चली आ रही तैयारियों का नजारा आज राजपथ पर दिख रहा है. इस बार का गणतंत्र दिवस बेहद खास है क्योंकि यह पहला मौका है जब एक साथ 10 देशों के प्रतिनिधि इसका हिस्सा बन रहे हैं. इन 10 देशों में ब्रुनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाइलैंड और वियतनाम शामिल हैं.

इन 10 देशों के प्रतिनिधियों को गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा बनाने पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत अपनी 'लुक ईस्ट' नीति को दुनिया के सामने रखना चाहता है. अब तक गणतंत्र दिवस पर किसी एक देश के राष्ट्राध्यक्ष या प्रतिनिधि को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया जाता था और सिर्फ तीन मौकों पर दो-दो देशों के राष्ट्राध्यक्षों या प्रतिनिधियों को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया है.

इस बार राजपथ पर पहली बार आकाशवाणी की झांकी शामिल हो रही है. यह झांकी प्रधानमंत्री मोदी के रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' पर आधारित है.

इस बार दिल्ली राज्य की झांकी परेड में शामिल नहीं होगी. 69वें गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में दिल्ली सरकार की कल्चरल झांकी नहीं दिखेगी. दिल्ली सरकार में आर्ट, कल्चर विभाग में डिप्टी सेकेट्ररी सिंधु मिश्रा के मुताबिक, इस बार रक्षा मंत्रालय को झांकी का प्रपोज़ल भेजने में देरी हुई. जिसके कारण उनकी झांकी शामिल नहीं हो पाएगी. इसके आलावा पश्चिम बंगाल की झांकी को भी रिजेक्ट कर दिया गया है.

दिल्ली में सुरक्षा को लेकर 60,000 जवानों को तैनात किया गया है. जिसमें दिल्ली पुलिस और केंद्रीय बलों को तैनात किया गया है. कई उंची बिल्डिंगों में स्नाइपर भी तैनात किए गए हैं. लोगों पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi