S M L

गणतंत्र दिवस: इस बार BSF ने नहीं बांटी पाक सैनिकों को मिठाई

बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि हाल के दिनों में सीमा पर तनाव काफी बढ़ गया है. संबंध बेहतर होंगे, इस परंपरा को फिर से शुरू किया जा सकता है

FP Staff Updated On: Jan 26, 2018 06:02 PM IST

0
गणतंत्र दिवस: इस बार BSF ने नहीं बांटी पाक सैनिकों को मिठाई

तनाव और गम में भला मिठाईयां कहां से बांटी और खाई जा सकती. बीएसएफ ने इस बार गणतंत्र दिवस में पाकिस्तानी रेंजर्स को मिठाई नहीं बांटी. सालों से चली आ रही परंपरा इस बार रोक दी गई.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, इंटरनेशनल बॉर्डर और नियंत्रण रेखा के पास पिछले कुछ महीनों से लगातार तनाव चरम पर है. बीएसएफ की ओर से पाकिस्तानी रेंजर्स को गुरूवार को ही बता दिया गया था कि इस बार गणतंत्र दिवस के मौके पर उन्हें मिठाईयां नहीं दी जाएंगी.

हालांकि पश्चिम बंगाल से सटे भारत-बांग्लादेश बॉर्डर पर बीएसएफ ने बांग्लादेश के जवानों को मिठाई दी है. पश्चिम बंगाल के फुलबारी पोस्ट पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच मिठाई का आदान-प्रदान किया गया.

वाघा बॉर्डर पर बीएसएफ के डीजी केके शर्मा ने बताया कि हाल के दिनों में सीमा पर तनाव काफी बढ़ गया है. पाकिस्तानी रेंजरों ने सीजफायर का उल्लंघन किया, जिसमें हमारे जवान मारे गए हैं. ऐसे में मिठाई बांटने का कोई तुक नहीं बनता. जब संबंध बेहतर होंगे, तब इस परंपरा को फिर से शुरू किया जा सकता है.

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सेना के साथ फ्लैग मीटिंग हुई है. उसमें सीजफायर का मुद्दा उठाया गया. पाकिस्तानी सेना ने भी माना है कि संघर्षविराम का उल्लंघन कम किया जाना चाहिए. बीएसएफ की तरफ से कभी उल्लंघन नहीं किया गया.

Ceasefire violations was the main issue of discussion during flag meeting with Pakistan. Both sides agreed that ceasefire violations should be reduced. BSF never initiates ceasefire violation: DG BSF KK Sharma at Attari Wagah border #RepublicDay pic.twitter.com/FWQ7VG0Nj8

जानकारी के मुताबिक, बॉर्डर पर दोनों सेनाओं के बीच अहम मौकों पर मिठाईयों का आदान-प्रदान होता रहा है. चाहे वह दिवाली हो, स्वतंत्रता दिवस हो, गणतंत्र दिवस हो, दोनों एक दूसरे को मिठाई देकर परंपरा निभाते रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi