S M L

बेहतर मार्जिन से आरआईएल ने चौथी तिमाही में कमाया रिकार्ड मुनाफा

पिछले 8 सालों में बेहतर रिफाइनिंग मार्जिन के कारण कंपनी ने अच्छा मुनाफा कमाया है

Updated On: Apr 24, 2017 10:03 PM IST

Bhasha

0
बेहतर मार्जिन से आरआईएल ने चौथी तिमाही में कमाया रिकार्ड मुनाफा

रिलायंस इंडस्ट्री के लिए मार्च तिमाही 2017 बेहद कामयाब रहा है. हाई मार्जिन और पिछले 8 सालों में बेहतर रिफाइनिंग मार्जिन के कारण कंपनी ने अच्छा मुनाफा कमाया है.

यह भी देखें: क्या कहते हैं रिलायंस इंडस्ट्री के चौथी-तिमाही के नतीजे?

फिस्कल ईयर 2016-17 की चौथी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज को रिकॉर्ड 8046 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट हुआ है. यह विश्लेषकों के अनुमान से बेहतर है.

कंपनी ने बताया कि इस दौरान कंपनी को कुल 29,901 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है. यह अब तक का हाइएस्ट प्रॉफिट है. शेयर मार्केट में रिलायंस का मार्केट कैपिटलाइजेशन सबसे ज्यादा है.

जियो को सपोर्ट

JIO1new

जियो के साथ रिलायंस ने टेलीकॉम मार्केट में एंट्री की है. अपने इस नए कारोबार को बढ़ावा देने के लिए कंपनी रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल्स के मुख्य कारोबार पर निर्भर कर रही है.

रिलायंस जियो ने 7.2 करोड़ ‘पेड’ ग्राहक हासिल किए हैं. कंपनी के बयान में कहा गया है कि जनवरी-मार्च 2017 तिमाही में उसका नेट प्रॉफिट 8,046 करोड़ रुपए रहा. पिछले साल की इसी तिमाही में यह 7,167 करोड़ रुपए था.

कारोबार का जायजा

पेट्रोकेमिकल्स सेगमेंट का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 26 फीसदी बढ़कर 3441 करोड़ रुपए हो गया. वहीं रिफाइनिंग कारोबार से ऑपरेटिंग प्रॉफिट इस दौरान फ्लैट 6294 करोड़ रुपए रहा.

मार्च 2017 तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज को प्रति बैरल 11.5 डॉलर का रिफाइनिंग मार्जिन मिला. इस दौरान कंपनी का रिफाइनिंग मार्जिन आठ साल में सबसे ज्यादा रहा. वहीं, पेट्रोकेमिकल का मार्जिन पांच साल में सबसे ज्यादा रहा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi