S M L

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की सुरक्षा में हुई लापरवाही, डिप्टी कमीश्नर को किया गया सस्पेंड

बीते 17 अक्टूबर को गोगोई अपनी पत्नी के साथ गुवाहाटी पहुंचे थे

Updated On: Oct 21, 2018 05:19 PM IST

FP Staff

0
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की सुरक्षा में हुई लापरवाही, डिप्टी कमीश्नर को किया गया सस्पेंड

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की सुरक्षा में हुई लापरवाही मामले में शनिवार को असम सरकार ने पश्चिम गुवाहाटी के डिप्टी कमीश्नर को सस्पेंड कर दिया. बीते 17 अक्टूबर को गोगोई अपनी पत्नी के साथ गुवाहाटी पहुंचे थे. उनके कार्यक्रम के बारे में सभी जानकारियां सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा सभी संबंधित लोगों को दिया गया था.

इसी बीच जब गोगोई गुवाहाटी स्थित कामाख्या मंदिर पहुंचे तो उनके सुरक्षा के इंतजाम उतने पुख्ता नहीं दिखे.

इस लापरवाही की खबर जब गृह (ए) विभाग के सचिव दीपक मजूमदार को मिली तो डिप्टी कमीश्नर भंवर लाल मीना को सस्पेंड कर दिया गया. मजूमदार के हस्ताक्षरित आदेश में लिखा गया है कि मीना को असम पुलिस मुख्यालय में ही रहना चाहिए था और बिना किसी सक्षम प्राधिकारी से अनुमति प्राप्त किए छोड़कर नहीं जाना चाहिए था.

राज्यपाल के नाम पर जारी आदेश के अनुसार अखिल भारतीय सेवा नियम, 1969 के 3 (1) के तहत भंवर लाल मीना को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

नए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने हाल के दिनों में जिस तरह से सुप्रीम कोर्ट ने आने वाले मामलों को निपटाया है, उस पर खेद व्यक्त किया था. उनके अनुसार कोई भी कोर्ट में आ जा रहा है और एक आदेश लेकर चला जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi