S M L

RBI की नोटबंदी पर रिपोर्ट 'मोदी मेड डिजास्टर' का एक और सबूत: कांग्रेस

नवंबर, 2016 में नोटबंदी लागू होने के बाद बंद किए गए 500 और 1,000 रुपए के नोटों का 99.3 प्रतिशत बैंको के पास वापस आ गया

Updated On: Aug 29, 2018 01:17 PM IST

FP Staff

0
RBI की नोटबंदी पर रिपोर्ट 'मोदी मेड डिजास्टर' का एक और सबूत: कांग्रेस

नवंबर, 2016 में नोटबंदी लागू होने के बाद बंद किए गए 500 और 1,000 रुपए के नोटों का 99.3 प्रतिशत बैंको के पास वापस आ गया है. रिजर्व बैंक की वार्षिक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. नोटबंदी के समय मूल्य के हिसाब से 500 और 1,000 रुपए के 15.41 लाख करोड़ रुपए के नोट चलन में थे. रिजर्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से 15.31 लाख करोड़ रुपए के नोट बैंकों के पास वापस आ चुके हैं.

15,310.73 अरब मूल्य के एसबीएन बैंकों के पास वापस आए

केंद्रीय बैंक ने कहा कि निर्दिष्ट बैंक नोटों (एसबीएन) की गिनती का जटिल कार्य सफलतापूर्वक पूरा हो गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंकों के पास आए एसबीएन को जटिल द्रुत गति (कॉम्पलेक्स स्पीड) की करेंसी सत्यापन एवं प्रसंस्करण प्रणाली (सीवीपीएस) के जरिए सत्यापित किया गया और उसके बाद उनकी गिनती करने के बाद उन्हें नष्ट कर दिया गया. एसबीएन से तात्पर्य 500 और 1,000 के बंद नोटों से है. रिजर्व बैंक ने कहा कि एसबीएन की गिनती का काम पूरा हो गया है. कुल 15,310.73 अरब मूल्य के एसबीएन बैंकों के पास वापस आए हैं.

कांग्रेस का पीएम मोदी पर हमला

आरबीआई को रिपोर्ट को कांग्रेस ने 'मोदी मेड डिजास्टर' का सबूत बताया. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि आरबीआई की रिपोर्ट ने एक बार फिर नोटबंदी को 'मोदी मेड डिजास्टर' साबित किया. नोटबंदी के दौरान चलन से बाहर किए गए 99.30% नोट वापस आ गए. पीएम मोदी ने 2017 में अपने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर दिए गए भाषण में बड़े दावे किए थे कि तीन लाख करोड़ रुपए सिस्टम में वापस आ रहे हैं. मोदी जी क्या आप इस झूठ के लिए अब माफी मांगेंगे.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi