S M L

गुजरात: 14 महीने की बच्ची से रेप के बाद यूपी-बिहार के लोगों पर हमला, अब तक 180 गिरफ्तार

गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की बच्ची से रेप करने के आरोप में बिहार के एक व्यक्ति की गिरफ्तारी के बाद राज्य के कई हिस्सों में जोरदार प्रदर्शन चल रहा है

Updated On: Oct 08, 2018 11:11 AM IST

FP Staff

0
गुजरात: 14 महीने की बच्ची से रेप के बाद यूपी-बिहार के लोगों पर हमला, अब तक 180 गिरफ्तार

गुजरात पुलिस ने बताया कि राज्य के पांच जिलों से करीब 180 लोगों को अबतक गिरफ्तार किया गया है जो कि उत्तर प्रदेश और बिहार से आकर गुजरात में रहने वाले लोगों को निशाना बना रहे थे. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक गुजरात के साबरकांठा जिले में पिछले हफ्ते 14 महीने की बच्ची से कथित तौर पर बलात्कार करने के आरोप में बिहार के एक व्यक्ति की गिरफ्तारी के बाद राज्य के कई हिस्सों में जोरदार प्रदर्शन चल रहा है. राज्य में रहने वाले गैर गुजरातियों, खासतौर पर उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को परेशान किया जा रहा है.

सोशल मीडिया पर बिहार और यूपी के लोगों के खिलाफ दिए जा रहे मैसेज

पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने बताया कि इस तरह के हमले पिछले एक हफ्ते में गांधीनगर, मेहसाना, साबरकांठा, पाटन और अहमदाबाद जिलों में हुए हैं. इन जगहों पर हो रहे हमलों में यूपी-बिहार के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों के खिलाफ नफरत भरे संदेश फैलाए जाने के बाद ये हमले हुए हैं. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 28 सितंबर को साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर कस्बे के पास एक गांव में 14 महीने की बच्ची से कथित तौर पर बलात्कार हुआ था. बिहार के रहने वाले रविंद्र साहू नाम के मजदूर को घटना वाले दिन ही गिरफ्तार कर लिया गया था. इस घटना के बाद से ही गुजरात के कई हिस्सों में तनाव का माहौल बना हुआ है.

अल्पेश ठाकोर ने कहा वह सिर्फ राज्य में शांति चाहते हैं

आपको बता दें कि कांग्रेस विधायक और एआईसीसी के सचिव अल्पेश ठाकोर पर इन हमलों को करवाने का आरोप लगाया जा रहा है. वहीं अल्पेश ने मांग रखी है कि 72 घंटों के अंदर उनके समुदाय के सदस्यों के उपर से मामला वापस ले लिया जाए. अल्पेश ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान बताया कि वह केवल शांति चाहते हैं. इस तरह के हमलों के पीछे उनका कोई हाथ नहीं है. उन्होंने बताया कि हो सकता के उनके सदस्य के कुछ लोग इस तरह के विरोध में शामिल हों लेकिन उन्होंने इस तरह का कोई निर्देश नहीं दिया है.

राज्य के विभिन्न जिलों में अब तक 23 एफआईआर दर्ज

वहीं पुलिस ने बताया कि गैर गुजरातियों पर हमले के बाद से राज्य के विभिन्न जिलों में अब तक 23 एफआईआर दर्ज किए गए हैं. 180 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने कारखानों और हाउसिंग सोसाइटियों में निगरानी बढ़ा दी है. वहीं सोशल मीडिया पर दिए जाने वाले संदेशों पर भी सख्त नजर रखी जा रही है. पुलिस ने बताया कि बिहार और यूपी के लोगों को गुजरात से बाहर खदेड़ने के लगभग एक दर्जन से ज्यादा वीडियो अब तक सोशल मीडिया पर फैल चुके हैं. इस तरह के वीडियो ही हिंसा को और अधिक बढ़ा सकते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi