S M L

दार्जिलिंग: राजनाथ सिंह ने प्रदर्शनकारियों से की अपील, हिंसा नहीं बातचीत करें

सिंह ने वकहा कि हिंसा से उन्हें कभी कोई समाधान खोजने में मदद नहीं मिलेगी

Updated On: Jun 18, 2017 04:47 PM IST

Bhasha

0
दार्जिलिंग: राजनाथ सिंह ने प्रदर्शनकारियों से की अपील, हिंसा नहीं बातचीत करें

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दार्जिलिंग में आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों से हिंसा नहीं करने की अपील की है. गृह मंत्री ने कहा मुद्दे के समाधान के लिए बातचीत करने की भी अपील की है. आंदोलन अलग गोरखालैंड राज्य की मांग को लेकर और 'बांग्ला' को जरूरी भाषा के तौर पर स्थापित करने के बंगाल सरकार के आदेश के खिलाफ हो रहा है.

सिंह ने वहां रहने वाले लोगों से कहा कि हिंसा से उन्हें कभी कोई समाधान खोजने में मदद नहीं मिलेगी और उन्हें शांति के साथ रहना चाहिए.

उन्होंने कहा, सभी संबंधित पार्टियों और पक्षों को सौहार्दपूर्ण माहौल में बातचीत के जरिए अपने मतभेदों और गलतफहमियों को सुलझाना चाहिए. सिंह ने कहा कि भारत जैसे लोकतंत्र में हिंसा से कभी कोई समाधान खोजने में मदद नहीं मिलेगी. हर मुद्दे को आपसी वार्ता से सुलझाया जा सकता है.

उन्होंने ट्वीट किया, 'मैं दार्जिलिंग और आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों से अपील करता हूं कि शांत रहें. किसी को हिंसा नहीं करनी चाहिए.' उन्होंने आज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भी बात की और वहां मौजूद हालात पर चर्चा की.

सिंह ने कहा, 'उन्होंने मुझे दार्जिलिंग के हालात से अवगत कराया. उन्होंने कल भी ममता से बात की थी और उनसे हरसंभव कदम उठाने को कहा ताकि इस पर्वतीय पर्यटन केंद्र में शांति बहाल हो सके जहां लोग स्कूलों में बांग्ला को अनिवार्य भाषा के तौर पर लागू करने का विरोध कर रहे हैं.'

अर्द्धस्वायत्तशासी गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन (जीटीए) में शासन संभाल रहा गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) वहां अलग राज्य की मांग को लेकर आंदोलन चला रहा है.

प्रदर्शनकारियों ने दार्जीलिंग से पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग की

दार्जिलिंग आज भी तनाव से घिरा रहा जहां हजारों प्रदर्शनकारी जीजेएम के एक कार्यकर्ता के शव को लेकर चौकबाजार में जमा हुए और उन्होंने अलग गोरखालैंड राज्य की मांग को लेकर नारेबाजी की. पुलिस के साथ संघर्ष में जीजेएम कार्यकर्ता मारा गया था.

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच शनिवार को हुई झड़पों के बाद पश्चिम बंगाल के इस पर्वतीय जिले में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.

शहर के बीचोंबीच स्थित चौकबाजार में प्रदर्शनकारी काले झंडे और तिरंगा लेकर एकत्रित हुए. उन्होंने नारेबाजी की और दार्जिलिंग से तत्काल पुलिसकर्मियों और सुरक्षाबलों को हटाने की मांग की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi